कोरोना वायरस से अब तक 51 पुलिसकर्मी हुए शहीद

आंकड़ों के मुताबिक अब तक मुंबई में 2,510 पुलिसकर्मी कोरोना से पीड़ित हैं, जिसमें से 1,785 लोग ठीक हो चुके हैं।साथ ही 692 पुलिस अभी कोरोना का इलाज करवा रहे हैं।

कोरोना वायरस से अब तक 51 पुलिसकर्मी हुए शहीद
SHARES


कोरोना वायरस (Coronavirus) केे हराने केे लिए वैसे तो कई अतिआवश्यक विभाग केे लोग कोरोना वारियर्स के रूप में लड़ाई लड़ रहे हैं। इस लड़ाई में डाक्टरों के साथ साथ पुलिस विभाग की भी बड़ी भूमिका है। लेकिन दुर्भाग्य से इस लड़ाई में राज्य के अब तक 51 पुलिसकर्मियों की मौत हो चुकी है। इनमें सबसे ज्यादा मौतें मुंबई पुलिस से हुई हैं। जबकि अभी भी 998 लोग इस वायरस (Covid-19) से लड़ रहे हैं।

आंकड़ों के मुताबिक अब तक मुंबई में 2,510 पुलिसकर्मी कोरोना से पीड़ित हैं, जिसमें से 1,785 लोग ठीक हो चुके हैं।साथ ही 692 पुलिस अभी कोरोना का इलाज करवा रहे हैं।  अब तक राज्य पुलिस बल में 4,048 पुलिसकर्मी कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं।  उनमें से अधिकांश लोग ठीक हो चुके हैं जबकि वर्तमान में एक हजार पुलिसकर्मियों का इलाज चल रहा है।

अभी हाल ही में मरीन ड्राइव पुलिस स्टेशन में कार्यरत एक 56 वर्षीय एक पुलिस उप-निरीक्षक की इस वायरस की वजह से मृत्यु हो गई है। इसके पहले भी मुंबई में कार्यरत अन्य पुलिस कर्मियों की मौत इस वायरस की वजह से हो चुकी है।

इस वायरस को देखते हुए पुलिस विभाग ने 55 साल से ऊपर वाले पुलिस कर्मियों को ड्यूटी पर न आने का फरमान जारी किया था। 

सवाल यह उठता है कि आखिर वह क्या कारण है जिसकी वजह से इतने अधिक पुलिसकर्मी इस वायरस की चपेट में आ रहे हैं। दरअसल लॉकडाउन में कानून व्यवस्था बनाये रखना हो या फिर किसी क्राइम सीन पर पहुंचना हो या किसी आरोपी या अपराधी को पकड़ना हो, इन लोगों के सीधे संपर्क में आते हैं ये पुलिस वाले। साथ ही कागजी कार्रवाई के दौरान भी पुलिस वाले आम लोगों से सीधे संपर्क में रहते हैं। इससे इनके प्रभावित होने की सबसे अधिक आशंका बनी रहती है।

Read this story in English or मराठी
संबंधित विषय
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें