बोरीवली के भगवती अस्पताल में करोड़ो का घोटाला, एक अधिकारी सस्पेंड

 Borivali
बोरीवली के भगवती अस्पताल में करोड़ो का घोटाला, एक अधिकारी सस्पेंड
बोरीवली के भगवती अस्पताल में करोड़ो का घोटाला, एक अधिकारी सस्पेंड
बोरीवली के भगवती अस्पताल में करोड़ो का घोटाला, एक अधिकारी सस्पेंड
See all


बोरीवली पश्चिम स्थित भगवती अस्पताल का करोड़ो का टेंडर घोटाला सामने आया है, जिसकी जांच मनपा की एक कमेटी कर रही है। यह मामला सामने आते ही मनपा आर उत्तर विभाग के एक अधिकारी को 1 माह के लिए सस्पेंड कर दिया गया है।

खबर के मुताबिक बोरीवली पश्चिम भगवती अस्पताल उपनगर का जाना-माना अस्पताल है, जिसका जीर्णोद्धार किया जा रहा है। इस अस्पताल में अभी भी हर वार्ड में बेड, टेबल,एसी,एक्सरे मशीन आदि है। 10 अगस्त 2017 को मनपा आर/उत्तर विभाग ने इसे तोड़ने का टेंडर निकाला था। यह टेंडर ए.के ट्रेडर्स नामकी एक कंपनी को मिला था। जिसमे कहा गया कि तोड़ने वाली कंपनी को मनपा 14 लाख रुपये देगी। जब इस टेंडर का विरोध होने लगा और इसकी शिकायत डीएमसी के पास पहुंची तो मनपा आर/उत्तर विभाग ने इस टेंडर को रद्द करते हुए 8 दिन बाद यानि 18 अगस्त 2017 को पुनः टेंडर निकाला, फिर से जिसमे 6 कंपनियों ने टेंडर भरा। इसके बाद यह टेंडर एम.आई नामकी एक दूसरी कंपनी को मिला।

इस टेंडर के अनुसार मनपा अस्पताल को तोड़ने के एवज में 73 लाख रुपये देगी। इस टेंडर का भी लोगों ने विरोध किया है। एक शिकायतकर्ता ने बताया इस अस्पताल में करोड़ों रुपये के एसी, बेड, टेबल एमआर मशीन ,एक्सरे मशीन सहित और कई मशीनें है जिसकी कीमत करोड़ो रूपये है।


इस संबंध में इनकी शिकायत मनपा उपयुक्त अशोक खैरे के पास पहुंची तो उन्होंने जांच के लिए एक टीम बनाई है जो इसकी जांच कर रही है। सूत्रों से पता चला है कि जांच के घेरे में मनपा आर/उत्तर विभाग की सहायक मनपा आयुक्त संध्या नंदेडकर भी है और इसी मामले में एक अधिकारी को 1 माह के लिए सस्पेंड कर दिया गया है। इस संबंध में अपनी सफाई में संध्या नंदेडकर ने मीडिया को कोई जबाब नही दिया।

Loading Comments