दाऊद इब्राहिम का भतीजा रिजवान कासकर एक्स्टोर्शन मामले में हुआ गिरफ्तार


SHARE

भगौड़ा अंडरवर्ल्ड डॉन दाउद इब्राहीम को मुंबई पुलिस ने एक और झटका दिया है। मुंबई पुलिस की एंटी एक्स्टोर्शन सेल ने बुधवार को रिजवान कासकर को गिरफ्तार किया। रिजवान कासकर दाउद के भाई इकबाल कासकर का बेटा है। आरोप है कि रिजवान बड़े-बड़े व्यापरियों से उगाही करने के लिए धमकी भरे फोन करता था। रिजवान को पुलिस ने उस समय गिरफ्तार किया जब वो भारत से बाहर भगने की तैयारी कर रहा था।

व्यवसायी को दिया था धमकी 
बताया जाता है कि कंस्ट्रक्शन का काम करने वाले बिल्डर, चीन और दुबई से इलेक्‍ट्रॉनिक की वस्तुएं आयात करने वाले व्यवसाइयों ने शिकायत दर्ज कराई थी। अश्फाक रफीक टॉवलवाला और एक व्यवसायी ने मिल कर एक बिजनस शुरू किया था। बिजनस तो नहीं चला साथ ही व्यसायी का काफी पैसा भी इसमें चला गया।व्यवसायी ने अश्फाक से बिजनस के 15 लाख रूपये मांगे लेकिन अश्फाक देने म आनाकानी करता था। इसके बाद अश्फाक के एक मित्र अहमद राजा अफरोज वधारिया ने एक दिन उस व्यवसायी को फोन किया और खुद को डॉन फहीम मचमच का राईट हैण्ड बताते हुए धमकी दी कि वह अश्फाक से पैसे न मांगे, यही नहीं बात नहीं मानने पर अहमद ने व्यवसायी को अंजाम भुगतने की भी धमकी दी। बताया जाता है कि जब वधारिया ने व्यवसायी को फोन किया तो उसके साथ इक़बाल कासकर का बेटा रिजवान कासकर भी था, यही नहीं रिजवान कासकर ने भी उस व्यवसायी को धमकी दिया था। व्यवसायी को यह फोन 13 और 16 जुलाई को भी किये गये थे। इसके बाद व्यवसायी ने मुंबई पुलिस ने इसकी शिकायत की। 

भारत छोड़ते समय हुआ गिरफ्तार
हालांकि वधारिया को मुंबई एयरपोर्ट पर उस समय गिरफ्तार कर लिया गया जब वह दूबई से मुंबई वापस आ रहा था। वधारिया की गिरफ्तारी के बाद से रिजवान कासकर भी डर गया। अपने ऊपर होने वाली  किसी भी कार्रवाई से बचने के लिए वह दुबई जाने के लिए जैसे ही एयरपोर्ट पहुंचा उसे पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। आपको बता दें कि उसका पिता इकबाल कास्कर भी एक्सटॉर्शन के एक मामले में ठाणे पुलिस की गिरफ्त में है।

संबंधित विषय