आरे हेलिकॉप्टर दुर्घटना में जांच एजेंसियों के हाथ खाली

 Pali Hill
आरे हेलिकॉप्टर दुर्घटना में जांच एजेंसियों के हाथ खाली
आरे हेलिकॉप्टर दुर्घटना में जांच एजेंसियों के हाथ खाली
आरे हेलिकॉप्टर दुर्घटना में जांच एजेंसियों के हाथ खाली
See all

मुंबई - आरे कॉलोनी में हुआ हेलिकॉप्टर दुर्घटना के जांच में अड़चन आ सकती है क्योंकि अभी तक जांच अधिकारीयों के हाथ कॉकपीट वॉइस रिकॉर्डर और फ्लाईट डेटा रिकॉर्डर हाथ नहीं लगा है। कॉकपीट वॉइस रिकॉर्डर में पायलट और एटीसी के बीच हुई बातचीत रेकॉर्ड होती है। जबकि फ्लाईट डेटा रिकॉर्डर से दुर्घटना के समय क्या तकनीकी गड़बड़ी हुई इस बात का पता लगाया जा सकता है। लेकिन दोनों के ही अभी तक नहीं मिलने से क्या घटना घटी थी इस बारे में अभी भी कोई जानकारी नहीं मिल पा रही है। रॉबिन्सन 44 एस्ट्रो नामका यह हेलिकॉप्टर आमतौर पर छोटे आकर के होते हैं नियम के मुताबिक़ इस हेलिकॉप्टर में कॉकपीट वॉइस रेकॉर्डर और फ्लाईट डेटा रेकॉर्डर के होने की जरुरत ही नहीं होनी चाहिए थी। इस दुर्घटना की जांच Aircraft Accident Investigation Board (AAIB) कर रही है. इस टीम ने दुर्घटना स्थल का जायजा लिया और घायल लोगों से मिलकर अन्य जानकारी भी ली।

Loading Comments