मुंबई: सोने की तस्करी का मामला, ज्वेलर्स के पास मिला 180 किलो सोना

DRI ने साहिल के पास से 180 किलो सोना भी बरामद किया, जिसकी बाजर कीमत 66 करोड़ रूपये आंकी जा रही है।

SHARE


कालबादेवी इलाके में सोने की तस्करी से जुड़े एक बड़े मामले का भांडाफोड़ हुआ है। यहां पुलिस ने एक ऐसे ज्वेलर्स को गिरफ्तार किया है जिसके ऊपर पिछले 10 महीने में लगभग 180 किलो सोने की तस्करी करने का आरोप है। आरोपी तस्कर का नाम साहिल जैन (23) है। साहिल अब राजस्व खुफिया निदेशालय यानी DRI (Directorate of Revenue Intelligence) की गिरफ्त में है। DRI ने साहिल के पास से 180 किलो सोना भी बरामद किया, जिसकी बाजर कीमत 66 करोड़ रूपये आंकी जा रही है।

क्या है मामला?

DRI को सूचना मिली थी कि कोलकाता से मुंबई आने वाली एक ट्रेन में अवैध रुप से सोने की तस्करी होने वाली है। साथ ही पुलिस को इस बात की भी खबर मिली कि तस्कर हावड़ा एक्सप्रेस ट्रेन से मुंबई आ रहा है। DRI ने   मुंबई के लोकमान्य तिलक टर्मिनस यानी कुर्ला टर्मिनस स्टेशन पर जाल बिछाया। जब ट्रेन आई तो उन्हें एक यात्री का हावभाव संदिग्ध लगा। पुलिस ने गोपा राम नामके इस यात्री को हिरासत में लिया और इसकी तलाशी ली तो इसके पास से  पुलिस को 6.9 किलो सपना मिला। 

गोपा राम ने पुलिस को बताया कि वह यह सोना बांग्लादेश से ला रहा है और उसे यह सोना मुंबई में साहिल जैन नामके एक ज्वेलर्स को देना है। गोपा राम की निशानदेही पर DRI ने साहिल जैन को गिरफ्तार किया। साहिल के पास से 180 किलो सोना बरामद किया, जिसकी बाजर कीमत 66 करोड़ रूपये बताई जा रही है।

पुलिस को जांच में यह भी पता चला कि, साहिल पिछले कई सालों से इसी तरह से सोने की तस्करी में लिप्त था और वह अब तक कई किलो सोने की तस्करी कर चुका है। साथ ही गोपा राम के पास से जो सोना मिला है उस पर कोई मार्किंग नहीं है, इसीलिए वह असली है या नकली पुलिस इसकी जांच कर रही है, और सी नेटवर्क में शामिल और लोगों की भी तलाश कर रही है।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें