झुठा साबित हुआ वायरल मैसेज


SHARE

मुंबई - देशभर में 500 और1000 के नोट बदलने के लिए बैंक के सामने लोग लंबी लंबी लाइन लगा रहे है। जिनकों 2000 का नया नोट मिल चुका है वो कही खुश है तो कही कुछ लोगों ने इस नोट में कुछ खामियां ढूंढ निकाली है। जिसके बाद इसे सोशल मिडीया पर वायरल किया जा रहा है। एसे ही एक मैसेज में बताया गया है की 2000 के नए नोट में मराठी में दो बार दो हजार रुपये लिखे गए है। जबकी असलियत में आरबीआई की ओर से ऐसी कोई गलती नहीं की गई है। दरअसल नोट में एक बार कोकणी में दो हजार रुपये लिखे गए है। तो वहीं मराठी में भी एक बार दो हजार रुपया लिखा हुआ है। कोंकणी भाषा देवनागरी, रोमन, कन्नड, मलयालम, लैटीन, अरबी लिपी में लिखा जाता है। साथ ही कोंकणी भाषा को देश में देवनागरी लिपी में अधिकृत मान्यता है। कोंकणी और मराठी भाषा में कुछ ज्यादा फर्क नहीं है जिसके कारण लोगों को ये गलत खबर फैलाई जा रही है। आरबीआई के वेबसाईट पर नोट पर कितनी भाषाएं लिखी जाती है इसकी जानकारी दी गई है।

संबंधित विषय