एफडीए की रडार पर दो वेबसाइट

 Mumbai
एफडीए की रडार पर दो वेबसाइट

मुंबई - म्हैसाल भ्रूण हत्या मामले के बाद आखिरकार एफडीए जाग गया है। गर्भपात के लिए एमटीपी किट की अवैध तरीके से बिक्री करने वाले डिस्ट्रीब्युटर समेत ऑनलाईन दवीइयों की विक्री करने वाली वेबसाइट के खिलाफ मुंबई विभाग के एफडीए ने कड़ा रुख अख्तियार किया है।

बीते सप्ताहभर से डिस्ट्रीब्युटरों की जांच की जा रही है। वहीं दो वेबसाईट एमटीपी किट की ऑनलाईन विक्री करते हुए पाई गई हैं। इन दोनों वेबसाइट पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई करने की योजना एफडीए ने बनाई है, यह जानकारी एफडीए के एक वरिष्ठ अधिकारी ने मुंबई लाइव को दी है।

म्हैसाल भ्रूण हत्या की घटना ने महाराष्ट्र समेत पूरे देश को झकझोर कर रख दिया था। गर्भपात की दवाइयां, एमटीपी किट इनकी अवैध विक्री पर शख्त मनाही है इसके बावजूद म्हैसाल में बड़ी संख्या में इसकी विक्री हुई। ज्यादातर इसकी विक्री ऑनलाइन हुई। इस पर कंट्रोल रखने और कार्रवाई करने का अधिकार एफडीए के पास है पर ऐसा हुआ नहीं इस तरह का आरोप स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं और फार्मासिस्ट संघों ने लगाया है। पर पिछले सप्ताह से एफडीए विभाग काफी एक्टिव नजर आ रहा है।




Loading Comments