टाटा फाइनेंस के पूर्व एमडी ने की खुदकुशी

 Dadar
टाटा फाइनेंस के पूर्व एमडी ने की खुदकुशी

टाटा फाइनेंस के पूर्व एमडी दिलीप सुधारक पेंडसे ने अपने ऑफिस में खुदकुशी कर ली। दिलीप सुधारक पेंडसे ने दादर पूर्व स्थित अपने ऑफिस पर फांसी लगा ली। इसी इमारत में पहली मंजिल पर वो रहते थे। दिलीप सुधारक पेंडसे की उम्र 61 साल थी। पुलिस के मुताबिक उन्होंने फांसी लगाकर खुदकुशी की है।


उनके ऑफिस से एक सुसाईड नोट भी बरामद हुआ है जिसमे उन्होने लिखा है की अपने पर्सनल लाइफ से परेशान होकर वह आत्महत्या कर रहे है , इसके लिए किसी को दोषी ना माना जाए। फिलहाल पुलिस ने पेंडसे की लाश को पोस्टमार्टम के लिए भेजा दिया।


2001 में पेंडसे को भ्रष्टाचार के चलते टाटा फाइनेंस से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया था। इसके पहले टाटा मोटर्स के मुख्य कार्यकारी अधिकारी कार्ल स्लिम ने 2014 में और टाटा स्टील के पूर्व प्रवक्ता चारू देश पांडे ने 2013 में आत्महत्या कर ली थी। पेंडसे को दिल्ली पुलिस ने फरवरी 2003 में 2 करोड़ के भ्रष्टाचार मामले में शामिल होने के चलते गिरफ्तार कर लिया था।

अक्तूबर 2014 में पेंडसे को सेबी ने अवैध व्यापार का दोषी पाया और पूंजी बाजार के प्रयोग से 2 साल के लिए बैन कर दिया था।

डाउनलोड करें Mumbai live APP और रहें हर छोटी बड़ी खबर से अपडेट।

मुंबई से जुड़ी हर खबर की ताज़ा अपडेट पाने के लिए Mumbai live के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।

(नीचे दिए गये कमेंट बॉक्स में जाकर स्टोरी पर अपनी प्रतिक्रिया दे) 


Loading Comments