हे अतिथि तू कब जाएगा - जुहू पुलिस

 Juhu
हे अतिथि तू कब जाएगा - जुहू पुलिस
हे अतिथि तू कब जाएगा - जुहू पुलिस
See all

घाना देश का एक अपराधी मुंबई की जुहू पुलिस के लिए सिरदर्द बना हुआ है। यह इस समय जुहू पुलिस की हिरासत में हैं। इसकी खाने और पहनने की नई-नई डिमांड पुलिस के लिए काफी महंगा साबित हो रहा है।

32 वर्षीय अभियुक्त एडवर्ड खोफीबेन जो खुद को घाना के निवासी के रूप में बताता है वह चार महीने से जुहू की जेल में रह रहा है। जुहू पुलिस अफसरों के लिए वह सांसत का कारण बना है क्योंकि उसे खाने में रोज चिकन बिरयानी, पीने के लिए मिनरल वाटर और पहनने के लिए ब्रांडेड कपड़े चाहिए। एडवर्ड की इस मांग को पुलिस रोज रोज पुलिस वहन नहीं कर सकती है। चिकन बिरयानी खाने के अलावा एडवर्ड पिज्जा खाने की भी डिमांड करता था। यही नहीं एडवर्ड को उसका देश घाना वापस लेने से इनकार कर रहा है। एडवर्ड 10 जनवरी से जेल में हैं। दो पुलिस कांस्टेबल एडवर्ड पर हमेशा नजर रखते हैं।

बताया जाता है कि 2013 में मुंबई पुलिस ने एडवर्ड को अवैध पासपोर्ट पर भारत में रहने के लिए गिरफ्तार किया था। इसके लिए उसे चार साल की जेल भी हुई। जनवरी 2017 में एडवर्ड को निर्वासन के लिए जुहू पुलिस को सौंप दिया गया था। लेकिन जब जुहू पुलिस के अधिकारियों ने घाना दूतावास से संपर्क किया तो घाना ने एडवर्ड को अपने देश का नागरिक मानने से इनकार कर दिया। तबसे लेकर अब तक एडवर्ड यहीं जुहू पुलिस की कस्टडी में है।

एडवर्ड पुलिस पर आरोप लगाते हुए कहता है कि वह घाना का निवासी है और अपने देश वापस जाना चाहता है लेकिन पुलिस उसे नहीं छोड़ रही है। वह आगे कहता है कि वह घाना दूतावास से बात करना चाहता है लेकिन पुलिस उसे बात नहीं करने दे रही है।

डाउनलोड करें Mumbai live APP और रहें हर छोटी बड़ी खबर से अपडेट।

मुंबई से जुड़ी हर खबर की ताज़ा अपडेट पाने के लिए Mumbai live के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।

(नीचे दिए गये कमेंट बॉक्स में जाकर स्टोरी पर अपनी प्रतिक्रिया दे) 

Loading Comments