COVID-19 CASES IN MAHARASHTRA
Total:
52,69,292
Recovered:
46,54,731
Deaths:
78,857
LATEST COVID-19 INFORMATION  →

Active Cases
Cases in last 1 day
Mumbai
38,649
1,946
Maharashtra
5,33,294
42,582

नालासोपारा बम मामला: वैभव राउत के घर से एटीएस को क्या मिला, यहां है पूरी लिस्ट


नालासोपारा बम मामला: वैभव राउत के घर से एटीएस को क्या मिला, यहां है पूरी लिस्ट
SHARES

नालासोपारा से आतंकवाद निरोधी दस्ते (ATS) द्वारा वैभव राउत को गिरफ्तार किया गया जिसके घर से ATS को विस्फोटक पदार्थ, गन पाउडर और डेटोनेटर के साथ-साथ 8 देसी बम बरामद हुए। इस मामले में पुलिस ने दो अन्य लोगों शरद कलसकर, सुधनवा गोंधलेकर को भी गिरफ्तार किया। इन तीनों को एटीएस की स्पेशल कोर्ट ने 18 अगस्त तक पुलिस हिरासत में भेज दिया है। इन तीनों में से दो हिंदू जनजागृति समिति तो एक शिवप्रतिष्ठान संस्था से जुड़े होने की खबर है।
 
इस तरह तीनों की हुई गिरफ्तारी 
एटीएस अधिकरी के मुताबिक कुछ लोगों द्वारा राज्य में आतंकी हमले की साजिश रचे जाने की खबर मिलने के बाद जब एटीएस ने जांच की तो इनके हाथ संदिग्ध 5 मोबाइल नंबर लगे। इन नंबर के आधार पर ही एटीएस वैभव राउत तक पहुंची। और वैभव ने ही पूछताछ में शरद कलसकर और सुधनवा गोंधलेकर के बारे में बताया।

बम बनाने की किताब 
गुरूवार रात को एटीएस ने कार्रवाई करके राउत के घर और दूकान की जब तलाशी ली तो उन्हें 8 देशी बम मिले जबकि 12 देशी बम दूकान से मिले। साथ ही कुछ ऐसे दस्तावेज भी मिले जिसमें बम बनाने की जानकारी दी गयी थी। यही नहीं इन दस्तावेजों के मुताबिक अभी यह लोग 50 बम और बनाने वाले थे। एटीएस ने पूछताछ में और 15 से 16 लोगों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है।

धार्मिक सौहाद्र बिगाड़ने की कोशिश 
एटीएस ने आगे बताया कि इन तीनों ने पिछले हफ्ते से ही इन बमो को बनाने की शुरुआत की थी। जांच में यह भी पता चला कि यह बम लो इंटेंसिटी के थे। एटीएस ने बताया कि ये लोग पुणे, सातारा और सोलापूर में आतंक फैलाना चाहते थे। अब एटीएस इस बात की भी पूछताछ कर रही है कि इन सबके पीछे मास्टर माइंड कौन है? और एटीएस इसकी भी जांच कर रही है कि गौरी लंकेश, गोविन्द पानसरे और नरेंद्र  दाभोलकर के पीछे भी क्या इनका हाथ था?

सोशल मीडिया पर संदिग्ध पोस्ट
यही नहीं एटीएस वैभव के ट्वीट को भी संदिग्ध मान रही है. इस ट्वीट में वैभव ने 26 मई के दिन मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस को टैग करते हुए लिखा है 'कल की घटना में आप बच गए, भगवान की कृपा। कल अमावस थी, जरा दिन देख कर ही दौरा करें'.. अब पुलिस इस बात की भी जांच कर रही है कि इसका मतलब क्या है? यह किसके लिए था और इसे कौन चला रहा है?

वैभव के घर से मिलने वाले सामान 
घर से 8 देशी बम
दुकान से 12 देशी बम
2 जिलेटिन की छड़ें
4 डेटोनेटर
सेफ्टीफ्यूज वायर
22 नॉन इलेक्ट्रानिक डेटोनेटर
सफेद पाउडर युक्त अखबार में लपेटा हुआ छड़
2 लीटर जहर
1 बॉक्स बैटरी (1 बॉक्स में 10 बैटरी)
16 बोल्ट बैटरी
1 कटर
1 एक्सोब्लेड
1 सोल्डरिंग मशीन
3 स्विच
2 पीबीसी सर्किट
6 बैटरी कनेक्टर
4 रिले स्विच
8 रजिस्ट्रानली
6 ट्रान्जेस्टर
तार
हैंडग्लव्ज
चिपकाने वाला सोलुशन
1 हैंड ब्रांड सक्रिट पेपर

Read this story in मराठी or English
संबंधित विषय
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें