उत्तर प्रदेश के बाद महाराष्ट्र में सर्वाधिक घटित होते हैं अपराध

NCRB के अपराध के आंकड़ों के अनुसार, उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, तमिलनाडु, केरल, गुजरात और मध्य प्रदेश में सबसे अधिक मामले दर्ज हुए हैं।

उत्तर प्रदेश के बाद महाराष्ट्र में सर्वाधिक घटित होते हैं अपराध
SHARES

देश में दर्ज कुल अपराधों के मामले में महाराष्ट्र दूसरे स्थान पर है।  2019 में, महाराष्ट्र में पांच लाख नौ हजार 433 अपराध दर्ज किए गए जबकि उत्तर प्रदेश में 6 लाख 28 हजार 578 दर्ज हुए अपराधों के साथ पहले स्थान पर है।  2019 के लिए राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो (NCRB) के अपराध के आंकड़ों के अनुसार, उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, तमिलनाडु, केरल, गुजरात और मध्य प्रदेश में सबसे अधिक मामले दर्ज हुए हैं। यह तुलना देश के 29 राज्यों सहित केंद्र शासित प्रदेशों में दर्ज मामलों से की गई है।

हालांकि महाराष्ट्र दर्ज हुए अपराध की दर में दूसरे स्थान पर है, लेकिन प्रति लाख जनसंख्या पर अपराध दर के मामले में महाराष्ट्र टॉप सिक्स में है। इस संबंध में देश में महाराष्ट्र का स्थान छठा है। तो वहीं केरल इस मामले में देश में पहले स्थान पर है।  केरल में प्रति लाख आबादी पर 1287.7 अपराध दर्ज किए गए हैं। इसके बाद गुजरात (631.6), तमिलनाडु (600.3), हरियाणा (577.4) और मध्य प्रदेश (478.9) का स्थान है।

इसके अलावा, महाराष्ट्र गंभीर अपराधों जैसे हत्या के मामले में देश में तीसरे स्थान पर है। साल 2019 में, राज्य में 2142 हत्या के मामले दर्ज किए गए।  इसके पहले उत्तर प्रदेश प्रथम और दूसरे नंबर पर बिहार साल 2019 में सबसे अधिक हत्याएं दर्ज की गयी हैं। 2019 में ही उत्तर प्रदेश और बिहार में क्रमशः 3806 और 3138 हत्या के मामले दर्ज किए गए हैं।

Read this story in मराठी
संबंधित विषय