Advertisement

एन्जॉय करने के लिए होटल ने नहीं दिया कमरा, नाराज होकर फेंक दिया पेट्रोल बम


एन्जॉय करने के लिए होटल ने नहीं दिया कमरा, नाराज होकर फेंक दिया पेट्रोल बम
SHARES
Advertisement

कोरोना के कारण महाराष्ट्र के सभी जेलों में बंद कैदियों की सुरक्षा को देखते हुए कई लोगों को जमानत पर छोड़ दिया गया था। लेकिन अब यही कैदी पुलिस के लिए सिरदर्द साबित हो रहे हैं। एक मामले के मुताबिक एक कुख्यात गुंडे ने एक होटल में पेट्रोल बम इसीलिए फेंक दिया क्योंकि होटल वालों ने गुंडे की मौज मस्ती के लिए उसे होटल में कमरा देने से मना कर दिया था। इस घटना के बाद आरोपी को जेजे पुलिस ने फिर से गिरफ्तार कर लिया है।

क्या है मामला?

खबर के मुताबिक आरोपी अपने कुछ दोस्तों के साथ दो टाकी इलाके में स्थित इंदौर लॉजिंग बोर्डिंग में आरोपी अपने दो साथियों के साथ एक कमरा बुक करने आया था, लेकिन लॉकडाउन नियमों का हवाला देते हुए लॉज कर मालिक अब्दुल्ला करीम ने कमरा देने से मना कर दिया।

इसके बाद आरोपी और उसके दोस्तों ने करीम जे साथ मारपीट की और फरार हो गए। मामला यहीं खत्म नहीं हुआ। दूसरे दिन फिर ये लोग आए और एक थैली में आग लगाकर उसे लॉज में ही फेंक कर चले गए।

जैसे ही थैली फेंका गया, थैली में रखे ज्वलनशील पदार्थ की वजह से लॉज के दरवाजे ओर खिड़की में आग लग गई। लॉज के मैनेजर रजनीश मिश्रा ने वहां रखे अग्निशमन यंत्र से आग को बुझा दिया। इसके बाद इन सभी आरोपियों के खिलाफ जेजे पुलिस स्टेशन में केस दर्ज कराया गया। 

इस मामले में पुलिस ने अजीम भाऊ, जीरा और मोइन बाटला सहित आरोपी को गिरफ्तार किया है। प्रारंभिक जांच में पता चला है कि आरोपी अपने दोस्तों के साथ मस्ती करना चाहता था। वह इसके लिए होटल में एक कमरा चाहता है।

बताया जाता है कि आरोपी का नाम मोहम्मद अजीज अबु सालेम खान है जिसके खिलाफ पहले से ही 5 मामलों में केस दर्ज हैं। आजाद मैदान पुलिस स्टेशन में डकैती और हत्या का दोषी ठहराया गया था, जिसके बाद उसने उच्च न्यायालय में अपील की थी। अपील पर मामले में इसे जमानत दे दी गई है। उसके खिलाफ फिरौती का मुकदमा भी दर्ज किया गया है।  सूत्रों ने बताया कि आरोपी गैंगस्टर एजाज लकड़ावाला का एक बार का विश्वासपात्र भी रह चुका है।
संबंधित विषय
Advertisement