• नौकरी के नाम पर करोड़ो की ठगी, चार गिरफ्तार
  • नौकरी के नाम पर करोड़ो की ठगी, चार गिरफ्तार
  • नौकरी के नाम पर करोड़ो की ठगी, चार गिरफ्तार
  • नौकरी के नाम पर करोड़ो की ठगी, चार गिरफ्तार
SHARE

बेरोजगारों को नौकरी का झांसा देकर हजारों लोगों को ठगने वाली एक अंतरराज्यीय गिरोह का भांडाफोड़ पुलिस ने किया है। इस गिरोह ने मुंबई सहित नवी मुंबई, दिल्ली, उत्तर प्रदश के अनेक बेरोजगार युवकों को फंसाया था। गोरगाँव में फिर से एक नए प्लेसमेंट एजेंसी शुरू करने के बाद पुलिस को इसकी भनक लगी और पुलिस ने इन गिरोह के लोगो को गिरफ्तार किया।


क्या थी  मोडस ऑपरेंडी?

यह गिरोह बहुत ही शातिरना ढंग से चलाया जाता था। इस गिरोह के लोग पहले तो किसी कमर्शियल बिल्डिंग में एक शानदार ऑफिस किराये पर लेते थे। और फिर उसी ऑफिस से सारी गतिविधियों को अंजाम देते थे।

इस गिरोह के लोग यूपी, राजस्थान, बिहार जैसे राज्यों के पेपरों में विदेशो में नौकरी दिलाने का विज्ञापन छपवाते थे और आवेदकों को इंटरव्यू के लिए मुंबई बुलाते थे। गिरोह के लोग अच्छी नौकरी दिलाने के नाम पर आवेदको से 40 हजार से लेकर एक लाख रूपये की मांग भी करते थेआवेदकों यही नहीं गिरोह के उनसे उनका पासपोर्ट भी जमा करवा लेते थे और बदले में उनको टूरिस्ट वीजा दिलाने का वायदा भी करते थे। इस तरह से यह गिरोह अपनी गतिविधियों को अंजाम देता था। और जब आवेदक नौकरी के लिए इनसे पूछताछ करते तो यह बहाना बनाते। जब इन्हें लगता कि इनका भेद खुल जाएगा तो यह गिरोह अपना बोरिया बिस्तरा समेट कर भाग जाते थे।


जाल में फंसे थे सैकड़ों लोग

इस गिरोह ने वर्ष 2014 में अँधेरी में डेल्टा सलूशन नामकी कंपनी खोली थी। विदेश में नौकरी के नाम पर इस गिरोह ने लगभग 180 युवकों से 1 करोड़ 16 लाख रूपये ऐंठे थे। 2015 में कांदिवली में फिर से दुसरे नाम पर कम्पनी खोली और नौकरी के नाम पर 500 लोगों को फंसा कर उनसे लगभग डेढ़ करोड़ रूपये ऐंठे। जोन 10 के डीसीपी नवीनचंद्र रेड्डी ने बताया कि नई दिल्ली से 464 युवको और यूपी के देवरिया से लगभग 150 युवकों को भी नौकरी के नाम पर फंसाया गया और उनसे भी मोटी रकम वसूली गयी।


कई दिनों से पुलिस को तलाश

जब इस गिरोह ने अंधेरी में धोखाधड़ी की थी तब इस कंपनी और कंपनी चलाने वालों के खिलाफ अंधरी पुलिस में मामला दर्ज कराया गया था। पुलिस तब से ही इनके पीछे लगी थी। जब पुलिस को पता चला कि इसी कंपनी के कुछ लोग गोरेगांव में एक नयी कंपनी खोल कर फिर से वही ठगी का धंदा शुरू करना चाहते हैं तो पुलिस ने इस गिरोह के चार लोगों को धर दबोचा। पुलिस ने जिन चार लोगों को गिरफ्तार किया है उनके नाम अमित पाटोले (39), अमरदीप चौहान (28), सरफराज मोहम्मद अली शेख (43) और अब्दुल सलाम गुलजार अहमद अंसारी (29) है। साथ ही पुलिस ने इनके पास से 10 कम्प्यूटर और कुछ गहने और पैसे भी जब्त किये। अभी पुलिस को इस गिरोह के मुख्य सूत्रधार सहित कुछ अन्य लोगों की तलाश है।


डाउनलोड करें Mumbai live APP और रहें हर छोटी बड़ी खबर से अपडेट।

मुंबई से जुड़ी हर खबर की ताज़ा अपडेट पाने के लिए Mumbai live के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।

(नीचे दिए गये कमेंट बॉक्स में जाकर स्टोरी पर अपनी प्रतिक्रिया दें) 




संबंधित विषय
ताजा ख़बरें