दाऊद इब्राहिम के सहयोगी एजाज लकड़ावाला को मुंबई पुलिस ने बिहार से किया गिरफ्तार

बताया जाता है कि मुंबई पुलिस ने बिहार पुलिस की मदद से लकड़ावाला को उस समय गिरफ्तार किया जब वो नेपाल के रास्‍ते पटना पहुंचा था। मुंबई पुलिस के अनुसार लकड़ावाला के खिलाफ 20 से अधिक मामले दर्ज हैं।

  • दाऊद इब्राहिम के सहयोगी एजाज लकड़ावाला को मुंबई पुलिस ने बिहार से किया गिरफ्तार
SHARE

मुंबई पुलिस के हाथ एक बड़ी कामियाबी लगी है मुंबई पुलिस ने बिहार के पटना से भगोड़े गैंगस्टर एजाज लकड़ावाला को गिरफ्तार किया है एजाज लकड़ावाला कभी भगौड़े अंडरवर्ल्‍ड डॉन दाऊद इब्राहिम के सहयोगी रहा चुका था साथ ही मुंबई के एक बड़े बिल्डर से उगाही वसूले जाने पर धमकी भरे फोन किये जाने के मामले में भी मुंबई पुलिस को लकड़ावाला की तलाश थी लकड़ावाला मुंबई के सबसे वांछित गैंगस्‍टरों में शामिल था और गैंगस्‍टर छोटा राजन का भी करीबी था। 

लकड़ावाला के खिलाफ 27 मामले दर्ज हैं
बताया जाता है कि मुंबई पुलिस ने बिहार पुलिस की मदद से लकड़ावाला को उस समय गिरफ्तार किया जब वो नेपाल के रास्‍ते पटना पहुंचा था। मुंबई पुलिस के अनुसार लकड़ावाला के खिलाफ 20 से अधिक मामले दर्ज हैं। मुंबई पुलिस की क्राइम ब्रांच इन सही मामलों की जांच कर रही थी।

एजाज की बेटी ने दी थी जानकारी 
अभी हाल ही में मुंबई पुलिस ने एजाज लकड़ावाला की बेटी सोनिया लकड़ावाला उर्फ सोनिया शेख को उस समय गिरफ्तार किया जब वो एयरपोर्ट से नेपाल भागने की फिराक में थी, उस पर नकली पासपोर्ट बनाने का आरोप था उसे पुलिस ने एयरपोर्ट से धर दबोचा। सूत्रों के अनुसार सोनिया के साथ पूछताछ में भी पुलिस को इस बात की खबर मिली कि, एजाज नेपाल के रास्ते 8 जनवरी को पटना आ रहा है। इसके बाद पटना पुलिस की मदद से एजाज को अरेस्‍ट कर लिया गया। 

एजाज लकड़ावाला की बेटी सोनियापुलिस ने आगे यह भी बताया कि एजाज को पकड़ने के लिए पुलिस पिछले 6 महीने से प्लान कर रही थी, लेकिन अब जाकर सफलता हाथ लगी है।

बिल्डर से जबरन उगाही 
आपको बता दें कि इसी साल की शुरुआत में खार के एक बिल्डर ने मुंबई पुलिस से शिकायत की थी कि, एजाज लकड़ावाला और उसका भाई अकिल उगाही के लिए उसके पास धमकी भरे फोन कर रहे हैं जिसके बाद पुलिस ने अकील को  गिरफ्तार किया था। अब पुलिस उस मामले की भी जांच करेगी कि उगाही के मामले में लकड़ावाला का क्या रोल था?

अकील ने दी थी सोनिया की खबर 
यही नहीं पुलिस ने यह भी बताया कि अकील ने ही पुलिस को जानकारी दी थी कि, एजाज लकड़ावाला की बेटी सोनिया नकली पासपोर्ट के आधार पर नेपाल भागने वाली है, जिसके बाद पुलिस ने सोनिया को गिरफ्तार किया।

दाऊद से था मतभेद 
सूत्रों के अनुसार दाऊद और लकड़ावाला के बीच किसी बात को लेकर मतभेद हो गए थे जिसके बाद लकड़ावाला ने छोटा राजन से हाथ मिला लिया था। जिसके बाद साल 2003 में जब दाऊद के गुर्गों ने बैंकॉक में छोटा राजन पर हमला किया तो उस समय ऐसी अफवाह उडी थी कि इस हमले में लकड़ावाला की भी मौत हो गयी, लेकिन बाद में यह बात झूठ निकली। इस हमले के बाद लकड़ावाला बैंकाक से कनाडा चला गया और पिछले काफी समय से वहीं पर था। पुलिस से बचने के लिए लकड़ावाला अमेरिका, इंग्लैंड, मलेशिया, और नेपाल सहित अन्य देशों में अपनी पहचान छुपा कर रह रहा था। 

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें