200 से अधिक अवैध पान की दुकानों पर कार्रवाई, 49 लाख के तंबाखू जनित पदार्थ जब्त

कई शिकायतें मिलने के बाद मुंबई पुलिस ने 2 हफ्ते की कार्रवाई में 200 से अधिक पान की दुकानों पर कार्रवाई कर 49 लाख रुपए के बीड़ी, सिगरेट और तंबाखू जनित पदार्थ जब्त किय।

SHARE

पान की दुकानों को लेकर बॉम्बे हाई कोर्ट ने कहा था कि स्कूलों और कॉलेजों से 100 मीटर के अंदर पान की दुकानों पर गुटखा, बीड़ी, सिगरेट, तंबाखू और सुगंधित सुपारी जैसी वस्तुएं बेचना गैरकानूनी है। इसे बेचने पर कार्रवाई हो सकती है। बावजूद इसके मुंबई पुलिस को लगातार इस अवैध धंदे की शिकायत मिल रही थी। पुलिस ने लगभग 200 से अधिक पान की दुकानों पर कार्रवाई करते हुए 49 लाख रुपए के गुटखा, तंबाखू सहित बीड़ी और सिगरेट जब्त किये।

आपको बता दें कि बच्चों में बढ़ती हुई नशे की लत को देखते हुए साल 2003 में एक याचिका की सुनवाई में हाई कोर्ट ने यह आदेश दिया था कि तंबाखू रोकथाम अधिनियम कानून के तहत स्कूल और कॉलेजों के 100 मीटर के दायरे में पान की दुकानों सहित अन्य दुकानों पर तंबाखू जनित पदार्थ और सुगंधित सुपारी बेचना अपराध होगा। ऐसा करते हुए पाए जाने पर छह साल की सजा का प्रावधान भी है। इसके बावजूद मुंबई के कई इलाकों में धड़ल्ले से स्कूल और कॉलेजों के आसपास बीड़ी, सिगरेट और तंबाखू जनित पदार्थ बरोकटोक बेचे जा रहे थे।

कई शिकायतें मिलने के बाद मुंबई पुलिस ने 2 हफ्ते की कार्रवाई में 200 से अधिक पान की दुकानों पर कार्रवाई कर 49 लाख रुपए के बीड़ी, सिगरेट और तंबाखू जनित पदार्थ जब्त किया।

इस मामले में मुंबई पुलिस के एक रिकॉर्ड के मुताबिक साल 2017 में पुलिस ने 12687 केस दर्ज किये थे और 13063 लोगों को गिरफ्तार किया गया था। साल 2018 में 9323 केस दर्ज किये गये जिसमें से 9516 लोगों को ही गिरफ्तार किया गया, अब एक बार फिर से मुंबई पुलिस एक्शन मोड में आ गयी है।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें