पुलिस से 'दादागिरी' I


पुलिस से 'दादागिरी' I
SHARES

विलास शिंदे की शहादत के बाद हर तरफ बस यही आवाज उठ रही हैं की आखिरकार लोगों की सुरक्षा करनेवाले पुलिसकर्मीयों की सुरक्षा में कमी क्यों ? लेकिन इस हादसें के बाद भी शहर में पुलिसकर्मियों पर हमले की वारदात में कोई कमी नहीं आई I शहर में गुरुवार को ही 4 जगहों पर कुछ लोगों ने पुलिस को भी नहीं बख्सा I अंधेरी रेल्वे स्थानक पर गाडी़ ट्रैफिक वार्ड ने मामूली सी बात पर ट्रैफीक हवलदार विश्वनाथ राणे से धक्का मुक्की की I तो वही  कोलाबा में ट्रैफिक हवलदार राजेंद्र पवार ने जब एक कार पर लगे काले कांच पर कार्रवाई की बात की तो गाड़ीवाले उनके साथ धक्का मुक्की करने लगे I दूसरी तरफ डॉकयार्ड रोड पर बाईक सवार कुछ लोगों ने  पुलिस हवलदार महादेव कुंभार को जख्मी किया साथ ही कुर्ला में गाड़ी को रोकने का इशारा देने पर गाड़ी चालक इम्तियाज खान ने ट्रॅफिक हवालदार देविदास निंबालकर को जख्मी कर दिया I

 

Read this story in English or मराठी
संबंधित विषय