अपने आप को पुलिस बता कर बुजुर्ग महिलाओं को लूटने वाले दो गिरफ्तार

पुलिस को पूछताछ में इन्होने बताया कि इनके निशाने पर अकसर बुजुर्ग महिलाएं होती थीं। ये महिलाओं को झूठ बोल कर उनके गहने उतरवा लेते थे और फिर लेकर भाग जाते थे।

SHARE

मुंबई की नेहरु नगर पुलिस ने दो ऐसे आरोपियों को गिरफ्तार किया है जो खुद कि पुलिसकर्मी बता कर वृद्धों को लूट लेते थे। इन दोनों आरोपियों के नाम संतोष पवार (45) और ओम नागेश चौरे (28) है। बताया जाता है कि ये दोनों कुख्यात आरोपी हैं, इन दोनों आरोपियों के नाम पर इसी तरह के लूट के मामले में कई थानों में केस दर्ज है।

क्या है मामला?

कुर्ला के नेहरु नगर इलाके में रहने वाले 75 वर्षीय बुजुर्ग महिला मोर्निंग वाक् के लिए अपने घर से शिवाजी मैदान की तरफ जा रही थी। रास्ते में महिला को ये दोनों आरोपी मिले। इन दोनों आरोपियों ने महिला से कहा कि आगे एक सेठ गरीब लोगों को साड़ी और खाने पीने का सामान बांट रहा है। अगर आपको साड़ी और सामन चाहिए तो आप अपने गहने उतार दीजिये और हमारे साथ सामान लेने चलिए। दोनों आरोपियों की बात में वृद्ध महिला आ गयी और उनके साथ जाने लगी।

ये तो महिला की किस्मत अच्छी थी कि वहां पर दो असली पुलिसकर्मी आ गये। असली पुलिस वालों को इन दोनों आरोपियों पर शक हुआ। जब पुलिसकर्मियों ने इन दोनों को रुकने के लिए कहा तो ये दोंनों भागने लगे। पुलिस ने इनका पीछा कर इन्हें गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस को पूछताछ में इन्होने बताया कि इनके निशाने पर अकसर बुजुर्ग महिलाएं होती थीं। ये महिलाओं को झूठ बोल कर उनके गहने उतरवा लेते थे और फिर लेकर भाग जाते थे। यही नहीं पुलिस को जांच में इस बात का भी पता चला कि इनके ऊपर एमआईडीसी, कांजूरमार्ग, वाकोला, भांडुप, वर्सोवा, खेरवाड़ी, दिंडोशी, मालाड, वर्ली, गोवंडी और कांदिवलीसहित अन्य थानों में इसी तरह के मामले दर्ज हैं। अब पुलिस इनके खिलाफ आगे की कार्रवाई कर रही है।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें