कमलेश तिवारी मर्डर केस: एक आरोपी नागपुर से हुआ गिरफ्तार

इसके पहले तीन साजिशकर्ता जिनके नाम मौलाना मोहसिन शेख, राशिद पठान उर्फ रशीद और फैजान हैं उन्हें भी गिरफ्तार किया जा चुका है।

SHARE

 

हिंदू महासभा के नेता कमलेश तिवारी मर्डर मामले में महाराष्ट्र ATS ने एक आरोपी को नागपुर से गिरफ्तार किया है। इस आरोपी का नाम सय्यद आसिम अली (29) है, जिसका भी इनवोल्वमेंट इस मर्डर केस में बताया जाता है। इस मामले में गिरफ्तार होने वाला चौथा आरोपी है। इसके पहले तीन साजिशकर्ता जिनके नाम मौलाना मोहसिन शेख, राशिद पठान उर्फ रशीद और फैजान हैं उन्हें भी गिरफ्तार किया जा चुका है।

इस तरह गिरफ्तार किया गया आरोपी को
गिरफ्तार किये गये आसिम को गुजरात पुलिस के हवाले कर दिया गया, जहां उससे अधिक तफ्तीश से पूछताछ की जाएगी। इस गिरफ्तारी में गुजरात पुलिस भी साथ में थी।

गुजरात पुलिस ने जब मौलाना और रशीद की गिरफ्तारी के बाद जब उनके फोन चेक किये गये तो उसमें एक नंबर संदिग्ध नंबर मिला जो सय्यद का था। जब उस नंबर की लोकेशन चेक की गयी तो वह नागपुर में मिला। इसके बाद गुजरात पुलिस ने महाराष्ट्र ATS के साथ मिल कर सय्यद को गिरफ्तार किया। सय्यद को गुजरात पुलिस को सौंप दिया गया।

पाकिस्तानी एंगल?
इस बात की भी जानकारी सामने आ रही है कि पहले सय्यद दुबई में एक कंपनी में काम करता था, वह जिस कंपनी में काम करता था उसका मालिक पाकिस्तानी नागरिक था, अब इस बात की भी जाँच की जा रही है कि दुबई में इस हत्याकांड की साजिश रची गयी थी उसमें पाकिस्तान नागिरक का भी हाथ है या नहीं?

सूत्रों के मुताबिक जो जानकारी सामने आ रही है वो यह कि, इस हत्याकांड की साजिश पाकिस्तान में रची गयी थी। पहले इसे सूरत में अंजाम दिया जाना था लेकिन बाद में इसे कैंसिल कर दिया गया और लखनऊ में अंजाम दिया गया।

साल 2015 में जब कमलेश तिवारी ने इस्लाम और पैगंबर के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी की थी तब उस समय देश भर में तिवारी के खिलाफ मुस्लिमों में विरोध प्रकट किया था। उस समय इन लोगों ने तिवारी को मारने की योजना बनाई थी।  

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें