shocking...मात्र 20 साल के कॉन्ट्रैक्ट किलर ने मारा संघवी को


  • shocking...मात्र 20 साल के कॉन्ट्रैक्ट किलर ने मारा संघवी को
SHARE

5 दिन से लापता HDFC के वाइस प्रेजिडेंट सिद्धार्थ संघवी डेडबॉडी आखिरकार पुलिस को मिल ही गयी। पुलिस को संघवी की लाश कल्याण के हाजिमलंग रोड पर स्थित काकडवाल गाँव के करीब एक कपड़े में बंधी मिली। पुलिस के अनुसार संघवी की हत्या उन्ही के साथ काम करने वाले सहयोगियों ने कराई थी क्योंकि उनसे संघवी को लगातार मिलने वाला प्रमोशन देखा नहीं गया। 

(पार्किंग स्थल पर संघवी का बिखरा हुआ खून)

प्रमोशन बनी जान लेवा 

पुलिस ने बताया कि संघवी की हत्या का कारण उन्हें मिल रही लगातार प्रमोशन थी। इस मामले में पुलिस ने संघवी की हत्या के लिए तीन लोगों को हिरासत में लिया है। बताया जाता है कि कमला मिल स्थित HDFC बैंक के हेड ऑफिस में साल 2007 में संघवी वरिष्ठ व्यवस्थापक (सीनियर मैनेजर) के रूप में बैंक से जुड़े। लेकिन अपनी मेहनत और लगन से काम करने पर संघवी को तीन बार प्रमोशन मिली और उन्हें इसी साल बैंक का वाइस प्रेसिडेंट बनाया गया था।


सहयोगियों ने दी हत्या की सुपारी 

लेकिन संघवी की क्या पता था कि जैसे-जैसे उन्हें प्रमोशन मिल रही है वैसे-वैसे मौत भी उनके उतने ही करीब आ रही है। इस प्रमोशन से उन्ही के साथ काम करने वाले उनके दो सहयोगियों को इतनी नागवार गुजरी कि उन्होंने संघवी की हत्या की सुपारी दे दी।

 
पार्किंग में की गयी हत्या 

बुधवार शाम को संघवी घर जाने के लिए ऑफिस से निकले तो वे ऑफिस के बिल्डिंग में बनी पार्किंग में गए, जैसे ही वे अपनी कार में बैठे वैसे ही उन्हें मार दिया गया। हत्यारे ने उनकी लाश को एक कपड़े में बांध कर कल्याण के हाजिमलंग रोड पर फेंक दिया। इसके बाद जब रात तक संघवी घर नहीं लौटे तो उनकी पत्नी ने संघवी की मिसिंग रिपोर्ट पुलिस में दर्ज कराई।


सभी आरोपी हुए गिरफ्तार 

जब पुलिस ने संघवी के मिसिंग की जांच शुरू की तो पुलिस ने सरफारज शेख नामके एक युवक को गिरफ्तार किया। इसके बाद पुलिस ने तीन और लोगों पूछताछ के लिए हिरासत में लिया जिसमें एक महिला भी शामिल थी।


 20 साल के किलर ने की हत्या 

जब पुलिस ने सरफराज से पूछताछ की तो उसने संघवी की हत्या करने का जुर्म कबूल कर लिया। उसने बताया कि संघवी की हत्या करके उसने कल्याण के हाजीमलंग रोड पर फेंक दिया है। इसके बाद उससे पूछताछ के बाद ही एक कैब ड्राइवर और संघवी के दो सहयोगियों को भी पुलिस ने अपने कब्जे में लिया। हालांकि इनकी भूमिका अभी तक स्पष्ट नहीं है लेकिन पुलिस ने बताया कि संघवी के की हत्या की सुपारी सरफारज को दी गयी थी, जिस कॉन्ट्रैक्ट किलर सरफराज ने संघवी की हत्या की उसकी उम्र मात्र 20 साल ही है।

पढ़ें: HDFC बैंक के वाइस प्रेसिडेंट सिद्धार्थ संघवी की हत्या

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें