funny: चोरी करने गये चोर ने पी ली शराब, जेल में खुली आंख

शैम्पेन को देखते ही चोर को लालच आ गया और उसने एक पूरी बोतल पी ली, पीने के बाद वह नशे में धूत होकर गिर पड़ा और जब उसकी आंख खुली तो उसने अपने आप को जेल में पाया।

funny: चोरी करने गये चोर ने पी ली शराब, जेल में खुली आंख
SHARES

हिंदी में एक कहावत है, गए थे हरी भजन को ओटन लगे कपास। यह कहावत एक चोर पर काफी सटीक बैठती है। मामले के अनुसार चोरी करने के इरादे से जब एक चोर घर में घुसा तो उसने वहां शैम्पेन की 2 बोतल देखी।  शैम्पेन को देखते ही चोर को लालच आ गया और उसने एक पूरी बोतल पी ली, पीने के बाद वह नशे में धूत होकर गिर पड़ा और जब उसकी आंख खुली तो उसने अपने आप को जेल में पाया।

क्या है मामला?

मुंबई मिरर की खबर के अनुसार 19 वर्षीय आरोपी संजीव वर्मा मुंबई सेंट्रल में रहता है। बुधवार की रात वह मरीन ड्राइव इलाके में चोरी करने के लिए गया। चोरी करने के लिए वह एक बिजनसमैन के घर में घुसा। इस बिजनसमैन का घर गिरिकुंज बिल्डिंग के तीसरे फ्लोर पर स्थित था। किसी तरह से घर में घुसने के बाद वर्मा ने जब सामान ढूंढना शुरू किया तो उसने वहां रखा हुआ फ्रिज खोला। उस फ्रिज में उसे 2 बोतल शैम्पेन रखी हुई मिली।

शैम्पेन को देखते ही वर्मा लालच में आ गया और उसने गटागट एक पूरी बोतल पी ली। यही नहीं वर्मा ने दूसरी बोतल भी आधी खत्म कर दी। थोड़ी देर बाद वर्मा नशे में धुत हो गया और वह वहीं गिर पड़ा।

जिस घर में वर्मा चोरी करने गया था वह बिजनसमैन सिद्धांत साबू का था। सिद्धांत साबू बिल्डिंग के उसी फ्लोर के दूसरे फ़्लैट में ही रहता था। थोड़ी देर बाद जब सिद्धांत साबू घर के बाहर आया तो उसने अपने घर की लाइट जलती हुई दिखी। जब उसने दरवाजा खोलने की कोशिश की तो दरवाजा अंदर से लॉक किया गया था।

साबू ने वहां और लोगों को भी बुला लिया और सभी ने मिलकर दरवाजा तोड़ दिया। जब सभी अंदर गये तो वर्मा उन्हें गिरा पड़ा मिला। वर्मा को देखते ही साबू ने पुलिस बुला ली।

पुलिस ने जब घर चेक किया तो उन्हें कचरे के डिब्बे में शैम्पेन की खाली बोतल और फ्रेज में आधी भरी हुई शैम्पेन की बोतल मिली।

इसके बाद पुलिस ने वर्मा को गिरफ्तार कर उसे थाने ले आई। साबू ने बताया कि, उसने अभी हाल ही में यह फ़्लैट खरीदा है और वह थोड़ा-थोड़ा करके ही सामान ला रहा है, इसीलिए वह उसी फ्लोर पर दूसरे फ़्लैट में रह रहा है।

इस बारे में पुलिस ने जब वर्मा से पूछताछ की तो उसने बताया कि वह चोरी करने के लिए ही फ़्लैट में घुसा था, लेकिन शराब पीने के बाद वह नशे में धूत हो गया और बेहोश हो गया। हालाँकि वर्मा ने यह भी बताया कि उसने वहां से कुछ भी नहीं चुराया. अब पुलिस वर्मा के खिलाफ आगे की कार्रवाई में जुट गयी है।

Read this story in मराठी
संबंधित विषय