COVID-19 CASES IN MAHARASHTRA
Total:
59,87,521
Recovered:
57,42,258
Deaths:
1,18,795
LATEST COVID-19 INFORMATION  →

Active Cases
Cases in last 1 day
Mumbai
14,453
570
Maharashtra
1,23,340
8,470

गणतंत्र दिवस के मौके पर करना चाहते थे आत्महत्या, महिला और नाबालिग सहित तीन हिरासत में


गणतंत्र दिवस के मौके पर करना चाहते थे आत्महत्या, महिला और नाबालिग सहित तीन हिरासत में
SHARES

शिवाजी पार्क में 26 जनवरी के अवसर पर मनाया जाने वाला गणतंत्र दिवस के मौके पर तीन संदिग्ध लोगों को पुलिस ने हिरासत में लिया है इन तीनों में एक महिला सहित एक युवक और एक नाबालिग भी हैं बताया जाता ये तीनों परभणी के हैं और यहां आत्महत्या करने आए थे


मुंबई में हाई अलर्ट है घोषित

आपको बता दें कि 26 जनवरी गणतंत्र दिवस के मौके पर मुंबई सहित पूरे देश में हाई अलर्ट घोषित किया गया है। यही नहीं अभी हाल ही में सुरक्षा एजेंसियों ने इंडियन मुजाहिदीन के एक वांछित आतंकवादी को गिरफ्तार किया गया है जिसकी पहचान अब्दुल सुभान कुरैशी उर्फ तौकीद के रूप में हुई पूछताछ में उसने बताया था कि वह आतंकवादी संगठन सिमी जैसे और संगठन को फिर से खड़ा करने आता था इसी के मद्देनजर पूरे देश में और भी सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किये गए हैं  


मुंबई में सुरक्षा के हैं पुख्ता इंतजाम

मुंबई में भी चप्पे चप्पे पर पुलिस की नजर है शिवजी पार्क और आसपास के इलाकों में भी भारी पुलिस बल तैनात किये गए हैं पुलिस को शिवाजी पार्क में कुछ गड़बड़ी होने की पूर्व सूचना भी मिली थी, जिसके बाद पुलिस पहले से ही सचेत हो गयी थी


पुलिस को घुमते हुए दिखे तीन संदिग्ध

शिवजी पार्क में परेड के दौरान पुलिस ने एक महिला सहित दो पुरुषों को संदिग्ध अवस्था में घूमते हुए दिखाई दिए पुलिस ने शक के आधार पर इन लोगों को हिरासत में लिया। पूछताछ में इन्होने पुलिस को अपना नाम अखिला बेगम शमशेर खान (35) उसका बेटा मंसूर शमशेर खान (15) और उसका देवर यासिन खान शामिर खान (30) बताया।


किया चौंकाने वाला खुलासा

इन्होने पुलिस की पूछताछ में चौंकाने वाला खुलासा करते हुए बताया कि ये तीनों यहां आत्महत्या करने आये हैं तलाशी में पुलिस को इनके पास से एक केरोसीन (मिट्टी का तेल) से भरी एक बोतल और एक चाकू भी मिली।


पुलिस की ज्यादतियों से थे परेशान 

इन तीनों ने आत्महत्या करने का कारण बताते हुए कहा कि अखिला बेगम के पति को परभणी पुलिस पूछताछ के लिए ले गयी थी, लेकिन शाम के समय अखिला को यह सूचना मिली कि उनके पति की पुलिस कस्टडी में मौत हो गयी। इस मामले में अखिला की शिकायत दर्ज करते हुए पुलिस ने जांच अधिकारी एम.एस रऊफ को गिरफ्तार किया जबकि अभी भी दो लोग फरार हैं। अखिला के अनुसार उनके परिवार का आर्थिक पुनर्वसन नहीं होने के कारण और उन्हें न्याय नहीं मिलने के कारण उन तीनों ने आत्मदहन करने का निर्णय लिया था


Read this story in मराठी
संबंधित विषय
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें