मंत्री धनंजय मुंडे पर रेप का आरोप लगाने वाली महिला ने वापस लिया केस

रेणु शर्मा ने 11 जनवरी को मुंडे के खिलाफ शिकायत में कहा था कि, शादी के नाम पर मुंडे ने उनके साथ कई सालों तक रेप किया।

मंत्री धनंजय मुंडे पर रेप का आरोप लगाने वाली महिला ने वापस लिया केस
SHARES

महाराष्ट्र के सामाजिक न्याय मंत्री, धनंजय मुंडे (dhananjay munde) पर बलात्कार (rape) का आरोप लगाने वाली मुंबई की महिला सिंगर रेणु शर्मा (renu sharma) ने अपनी पुलिस शिकायत वापस ले ली है। रेणु शर्मा ने धनंजय मुंडे पर बलात्कार (rape alligation on dhananjay munde) का आरोप लगाया था, जिसके बाद प्रदेश में खलबली मच गई थी।

एक अधिकारी ने शुक्रवार को बताया कि,  महिला ने अपनी शिकायत वापस ले ली है। हालांकि, महिला ने शिकायत किन वजहों से वापस लिया, अभी तक कोई कारण सामने नहीं आया है। इसके अलावा, मुंबई पुलिस (mumbai police) ने शिकायतकर्ता महिला को इस संबंध में एक नोटरी शपथ पत्र प्रस्तुत करने के लिए कहा है।

रेणु शर्मा ने 11 जनवरी को मुंडे के खिलाफ शिकायत में कहा था कि, शादी के नाम पर मुंडे ने उनके साथ कई सालों तक रेप किया। साथ ही ने उन्होंने पहले से ही हो चुकी दो शादियों की बात छुपा कर रखी। रेणु ने इस बाबत सोशल मीडिया (social media) के फेसबुक (facebook) प्लेटफॉर्म पर एक पोस्ट भी किया था।

शिकायत करने के बाद 16 जनवरी को ओशिवारा डिवीजन के सहायक पुलिस आयुक्त ने रेणु शर्मा का बयान दर्ज किया था। यही नहीं रेणु ने सोशल मीडिया पर ओशिवारा पुलिस (oshiwara police) पर भी आरोप लगाया था, जिन्होंने लिखा था कि, लिखित शिकायत के बावजूद पुलिस ने मंत्री के खिलाफ एफआईआर दर्ज नहीं की थी।

इंदौर निवासी रेणु शर्मा ने आगे आरोप लगाया है कि, मुंडे द्वारा उसे धमकी दी गई दुर्व्यवहार भी किया गया।

हालांकि, बलात्कार जैसे गंभीर आरोपों के बावजूद, NCP चीफ शरद पवार (sharad pawar) ने अपने मंत्री का समर्थन किया। उन्होंने मुंडे को पार्टी से निकाले जाने की बात पर कहा, बिना जांच के कोई भी निर्णय नहीं लिया जा सकता।

इसके बाद NCP के नेता और महाराष्ट्र के कैबिनेट मंत्री जयंत पाटिल (jayant patil) ने इस संबंध में बयान देते हुए इसे मुंडे का पारिवारिक मामला बताया। उन्होंने कहा, राजनीति में स्थापित होने में कई साल लग जाते हैं, इसलिए घटना की जांच किए बिना किसी के करियर को खत्म करना अनुचित होगा।"

शिव सेना (shiv sena) सांसद संजय राउत (sanjay raut) ने भी इस मामले को मुंडे का व्यक्तिगत मामला बताते हुए इस पर किसी को राजनीति नहीं करने की हिदायत दी थी। 

Read this story in मराठी or English
संबंधित विषय
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें