SHARE

मुंबई यूनिवर्सिटी ने अभी कई परीक्षाओं के रिजल्ट घोषित भी नहीं किये हैं जिसे लेकर यूनिवर्सिटी काफी दबाव में हैं, लेकिन जिन परीक्षाओं के रिजल्ट घोषित हो चुके हैं। अब उनके पुनर्मुल्यांकन करने के लिए छात्रो द्वारा वापस निवेदन किए जा रहे हैं, जिनकी संख्या लगभग 50 हजार है। इसको लेकर मुंबई यूनिवर्सिटी अब दोहरा दबाव झेल रही है। 

रिजल्ट घोषित करने को लेकर पहले से ही फजीहत झेल रही मुंबई यूनिवर्सिटी की परेशानी दूर होती नहीं दिख रही है।यूनिवर्सिटी के ऊपर पहले से ही रुके हुए परीक्षा के परिणाम जारी करने का दबाव है। जल्दी जल्दी में जो रिजल्ट घोषित भी किये गये हैं उन्हें लेकर काफी खामियां भी देखने को मिल रही हैं। यही कारण है कि यूनिवर्सिटी के पास लगभग 50 हजार छात्रों ने री-चेकिंग का आवेदन किया है।

सूत्रों की मानें तो पिछले साल री-चेकिंग का आंकड़ा 10 हजार था जो इस बार सीधे 50 हजार तक पहुंच गया। कयास लगाया जा रहा है कि अभी यह आंकड़ा और भी बढ़ सकता है। इस री-चेकिंग के लिए पत्राचार(IDOL) से पढ़ाई कर रहे छात्र और इंजीनियरिंग के छात्रों ने अधिक आवेदन किया है। अब री-चेकिंग के लिए आवेदन करने वालों छात्रों को यह डर सता रहा है कि कहीं उनके परिणाम को लेकर भी यूनिवर्सिटी तारीख पर तारीख देती न रह जाएं।


डाउनलोड करें Mumbai live APP और रहें हर छोटी बड़ी खबर से अपडेट।

मुंबई से जुड़ी हर खबर की ताज़ा अपडेट पाने के लिए Mumbai live के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।

(नीचे दिए गये कमेंट बॉक्स में जाकर स्टोरी पर अपनी प्रतिक्रिया दें) 

 



संबंधित विषय
ताजा ख़बरें