टैब घोटाला

मुंबई - सरकारी स्कूलों में विद्यार्थियों का बोझा कम करने के लिए सत्ताधारी सेना-बीजेपी ने टैब के वितरण की घोषणा की। पर इस टैब की खरीददारी में बड़ा घोटाला सामने आया है।

खरीदे गए अनेक टैब बंद बद पड़ गए हैं, कंपनी टेक्नो इलेक्ट्रॉनिक निविदा के लिए अपात्र है। विद्यार्थी 19 हजार पर टैब 22 हजार खरीदे। आश्वासन एक कंपनी का टैब देने का किया पर दिया दूसरी कंपनी का। टैब घोटाला मामले की जानकारी मिलते ही पृथ्वीराज म्हस्के ने उच्च न्यायालय में याचिका दर्ज की है।

Loading Comments