• इस तकनीक से घर से बैठे लेक्चर अटेंड करेंगे छात्र
  • इस तकनीक से घर से बैठे लेक्चर अटेंड करेंगे छात्र
SHARE

अब बीएमसी के स्कूल भी आधुनिक हाईटेक तरीके से छात्रों को पढ़ाने के मामले में बड़े और प्राइवेट स्कूल को टक्कर देते नजर आ रहे हैं। बीएमसी के 480 स्कूलों में वर्चुअल क्लासेस की शुरुआत की गयी है। इतना ही नहीं हर कक्षा में तेज गति के इंटरनेट होने से इसका फायदा बच्चों को मिल रहा है और आशा जताई जा रही है कि इससे बीएमसी स्कूलों के शिक्षा का स्तर भी सुधरेगा। इस वर्चुअल क्लास से छात्र बिना स्कूल आए घर से ही लेक्चर अटेंड कर सकते हैं। इस शैक्षणिक सत्र में 202 स्कूलों में वर्चुअल क्लासरूम की शुरुआत की जायेगी। इसके लिए लगभग 21.84 करोड़ रूपए बजट निर्धारित किया गया है।

साल 2011 में ही बीएमसी में वर्चुअल क्लास रूम की शुरुआत की गयी थी। उस समय मात्र 24 स्कूलों में ही इसे लागू किया गया था। लेकिन अब 240 स्कूलों में यह सेवा उपलब्ध है। 480 स्कूलों में से 188 स्कूल मराठी, 150 हिंदी, 90 उर्दू जबकि 52 स्कूल अंग्रेजी माध्यम के हैं।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें