IIT-B में सीनियर छात्र ने कई छात्रों का किया यौन उत्पीड़न, सोशल मीडिया के जरिये हुआ खुलासा

पोस्ट के मुताबिक उनका यौन उत्पीड़न मार्च महीने से ही किया जा रहा है। उनका सीनियर उसे आपत्तिजनक रूप से छूता है, कई बार शिकायतें करने के बाद भी कोई कदम नहीं उठाया गया।

SHARE

IIT मुंबई में एक सीनियर छात्र द्वारा कुछ जूनियर छात्रों के साथ यौन उत्पीड़न करने का मामला सामने आने से हड़कंप मच गया है। यही नहीं यह खुलासा हुआ फेसबुक के कन्फेशन डायरीज पेज के माध्यम से हुआ जिसमें एक पास आउट छात्र ने अपनी आपबीती सुनाई थी। बताया जताया है कि आरोपी इंजीनियरिंग के फाइनल ईयर का स्टूडेंट है। हालांकि कॉलेज प्रशासन ने इस मामले में अभी तक पुलिस से सम्पर्क नहीं किया है। 


">

क्या है मामला?
कॉलेज के सूत्रों के मुताबिक छात्र ने आईआईटी के फेसबुक पेज कन्फेशन डायरीज पर अपने साथ हुई घटना को पोस्ट किया था। उसने अपने साथ हो रही सभी घटनाओं का जिक्र किया है। पोस्ट के मुताबिक उनका यौन उत्पीड़न मार्च महीने से ही किया जा रहा है। उनका सीनियर उसे आपत्तिजनक रूप से छूता है, कई बार शिकायतें करने के बाद भी कोई कदम नहीं उठाया गया। फेसबुक में दावा किया गया है कि इस प्रताड़ना शिकार फ्रेशर और जूनियर छात्र ही बनते हैं जिनकी संख्या एक दो नहीं बल्कि अनेको हैं।

कौन है आरोपी छात्र?
पोस्ट के मुताबिक आरोपी छात्र इंजीनियरिंग का अंतिम साल का छात्र है, उसकी कॉलेज में काफी धाक है वह सभी का चहेता है। उसे कॉलेज के डीन सौम्य मुखर्जी ने 'मूड इंडिगो' फेस्टिवल का मेंटोर भी नियुक्त किया था, यानि उसे कॉलेज में आने वाले फ्रेशर का मार्गदर्शन करने की जिम्मेदारी दी गयी थी लेकिन वह मार्गदर्शन करने के बजाय यौन उत्पीड़न करता।


'शिकायत के बाद भी कार्रवाई नहीं'
आरोपी छात्र ने लिखा है कि यह सिलसिला मार्च महीने से ही चल रहा है। पीड़ित छात्रों 15 से भी अधिक हो सकती है। छात्र ने दावा किया है कि आईआईटी बॉम्बे के प्रशासन के पास कुछ छात्रों ने शिकायत भी की लेकिन कोई सबूत नहीं होने के कारण आरोपी का कुछ नहीं हो सका।

कॉलेज प्रशासन ने साधी चुप्पी 
इस मामले को लेकर जब मुंबई लाइव ने आईआईटी के पीआरओ अधिकारी फाल्गुनी बनर्जी से सम्पर्क किया तो उन्होंने खुद मैटरनिटी लीव पर होने और कोई जानकारी नहीं होने की बात कह कर इस मामले से अनभिज्ञता जताई, इसके बाद डीन सौम्य मुखर्जी से बात की तो उन्होंने भी छुट्टी पर होने और कोई जानकारी नहीं होने की बात कह कर अपना पीछा छुड़ाया।

'तो करेंगे बहिष्कार' 
इस दौरान पीड़ित छात्रों की तरफ से कहा गया है कि अगर आरोपी पर कोई कार्रवाई नहीं की गयी तो छात्रों द्वारा आयोजित सभी कार्यक्रमों और समारोह का बहिष्कार करेंगे।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें