MA की पुस्तक में गांधी, तिलक और नेहरू को बताया धर्म निरपेक्ष विरोधी

 Kalina
MA की पुस्तक में गांधी, तिलक और नेहरू को बताया धर्म निरपेक्ष विरोधी
MA की पुस्तक में गांधी, तिलक और नेहरू को बताया धर्म निरपेक्ष विरोधी
See all

MA राजनीति विज्ञान की पुस्तक में महात्मा गांधी, बाल गंगाधर तिलक और पंडित जवाहर लाल नेहरु को antisecular (धर्म निरपेक्ष विरोधी) लिखे जाने से हंगामा मच गया।  इसके विरोध में कांग्रेस की छात्र संगठन NSUI की तरफ से मुंबई यूनिवर्सिटी कलिना के कैम्पस में एक दिवसीय भूख हड़ताल का आयोजन किया गया।


पिछले साल भी इसी तरह यह पुस्तक छप कर आई थी, उस समय भी NSUI ने आन्दोलन कर अपना विरोध जताया था खान ने आगे कहा कि हमने इस बारे में वीसी को ज्ञापन भी सौंपा था लेकिन लगता है कोई फायदा नहीं हुआ खान ने रोष जताते हुए कहा कि इस बार अगर दोषियों पर कार्रवाई नहीं की गई तो हम तीव्र आंदोलन करेंगे -  आसिफ खान, सचिव, मुंबई कांग्रेस

इस मौके पर मुंबई कांग्रेस अध्यक्ष संजय निरुपम भी उपस्थित थे।


 महात्मा गांधी, नेहरु और तिलक जैसे लोग देश के हीरो हैं इनको antisecular कहना मतलब इन पर गलत दोषारोपण करने की साजिश है हम यह नहीं होने देंगे इसीलिए हम इनके सम्मान के लिए मैदान में उतरे हैं  -  संजय निरुपम, कांग्रेस अध्यक्ष


डाउनलोड करें Mumbai live APP और रहें हर छोटी बड़ी खबर से अपडेट।

मुंबई से जुड़ी हर खबर की ताज़ा अपडेट पाने के लिए Mumbai live के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।

(नीचे दिए गये कमेंट बॉक्स में जाकर स्टोरी पर अपनी प्रतिक्रिया दे) 





Loading Comments