Advertisement
COVID-19 CASES IN MAHARASHTRA
Total:
59,54,508
Recovered:
56,99,983
Deaths:
1,16,674
LATEST COVID-19 INFORMATION  →

Active Cases
Cases in last 1 day
Mumbai
14,860
684
Maharashtra
1,34,747
9,798

31 दिसंबर तक बंद रहेंगे मुंबई के स्कूल

स्कूलों को दिसंबर तक बंद करने का निर्णय दिल्ली सरकार को देखते हुए भी लिया गया है। दिल्ली में बीते कुछ दिनों से कोरोना के केस लगातार बढ़ रहे हैं इसलिए वहां की सरकार ने स्कूलों को बंद रखने का निर्णय लिया है।

31 दिसंबर तक बंद रहेंगे मुंबई के स्कूल
SHARES

कोरोना वायरस (Coronavirus) के कारण मुंबई (Mumbai) के स्कूल आगामी 31 दिसंबर 2020 तक बंद रहेंगे। यह जानकारी सोमवार 20 नवंबर को बीएमसी आयुक्त इकबाल सिंह चहल ने साझा की है।

स्कूलों को दिसंबर तक बंद करने का निर्णय दिल्ली सरकार को देखते हुए भी लिया गया है। दिल्ली में बीते कुछ दिनों से कोरोना के केस लगातार बढ़ रहे हैं इसलिए वहां की सरकार ने स्कूलों को बंद रखने का निर्णय लिया है। हालांकि, महाराष्ट्र के अन्य हिस्सों में स्कूल 23 नवंबर को फिर से खुल सकते हैं, जैसा कि राज्य सरकार द्वारा निर्देशित किया गया है।

महाराष्ट्र (Maharashtra) के स्कूलों को पहले 23 नवंबर से फिर से खोलने का कार्यक्रम था। इसके अलावा, 10 नवंबर को, महाराष्ट्र स्कूल शिक्षा विभाग ने राज्य में स्कूलों को फिर से खोलने के मद्देनजर मानक संचालन प्रक्रियाओं (एसओपी) के एक सेट की घोषणा की थी।

पिछले नोटिस के अनुसार,स्टूडेंट्स को 50 प्रतिशत उपस्थिति सुनिश्चित करने के लिए वैकल्पिक दिनों में स्कूल में भाग लेना है। इसके अलावा, दिशानिर्देशों में कहा गया है कि एक नियमित स्कूल का दिन चार घंटे से अधिक नहीं होगा। हालांकि, स्टूडेंट को स्कूल में लंच करने भी नहीं मिलेगा। 

यह भी पढ़ें: कल्याण-डोंबिवली में शिक्षकों के लिए खुले 5 कोरोना जांच केंद्र

COVID-19 संकट के बीच, महाराष्ट्र स्कूल शिक्षा विभाग ने भी छात्रों को स्कूलों में लौटने की अनुमति देने से पहले माता-पिता की सहमति मांगी है। इसका मतलब है कि छात्रों के लिए उपस्थिति अनिवार्य नहीं होगी और उन्हें अपने घरों से अध्ययन करने का विकल्प दिया जाएगा। रिपोर्ट के अनुसार, ऑनलाइन और ऑफलाइन समय सारिणी प्रत्येक स्कूल द्वारा तैयार की जाएगी, ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि गणित, विज्ञान और अंग्रेजी जैसे मुख्य विषयों को स्कूल में पढ़ाया जाए, बाकि की शिक्षा ऑनलाइन दी जाए। 

इसके अलावा, जो शिक्षक स्कूलों में भाग लेंगे, उन्हें छात्रों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए कोरोना वायरस के लिए आरटी-पीसीआर परीक्षण से गुजरना होगा।

यह भी पढ़ें: मुंबई के 29 मॉल्स को फायर ब्रिगेड ने भेजा नोटिस

Read this story in मराठी or English
संबंधित विषय
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें