बीएमसी स्कूलों की पढ़ाई में दिल्ली मॉडल को अपनाया जाएगा- अजित पवार

पवार ने कहा, दिल्ली स्कूल शिक्षा मॉडल को आज देश में सबसे अच्छा मॉडल माना जाता है। महाराष्ट्र में शिक्षा के मानक को बढ़ाने के लिए दिल्ली मॉडल के तहत ही शिक्षा प्रणाली में अपनाने की जरूरत है।

SHARE

महाराष्ट्र के उप मुख्यमंत्री अजीत पवार ने सोमवार को कहा कि राज्य सरकार ने 'दिल्ली' स्कूल मॉडल को अपनाने का फैसला किया है। स्कूलों में शिक्षा की गुणवत्ता को प्राथमिक स्तर पर सुधारने के लिए यह मॉडल अपनाया जाएगा।  सोमवार को मंत्रालय में आयोजित एक स्कूली शिक्षा समीक्षा की बैठक मेंअजीत पवार ने यह निर्णय लिया।

पवार द्वारा लिए गए निर्णय के अनुसार, मुंबई, पुणे, नागपुर, नवी मुंबई सहित अन्य शहरों के सभी सिविक बॉडी को भी दिल्ली के शिक्षा मॉडल का पालन करना अनिवार्य होंगे। 

पवार ने कहा, दिल्ली स्कूल शिक्षा मॉडल को आज देश में सबसे अच्छा मॉडल माना जाता है। महाराष्ट्र में शिक्षा के मानक को बढ़ाने के लिए दिल्ली मॉडल के तहत ही शिक्षा प्रणाली में अपनाने की जरूरत है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, अरविंद केजरीवाल की अगुवाई वाली दिल्ली सरकार ने राजधानी में शिक्षा की गुणवत्ता में भारी बदलाव किया है।

इस पर बात करते हुए, महाराष्ट्र के डिप्टी सीएम ने कहा कि दिल्ली मॉडल एक बेहतर वित्तीय प्रबंधन और शिक्षा मानकों को सुनिश्चित करता है।

अजीत पवार ने आगे कहा कि महाराष्ट्र विकास आघाड़ी (MVA) सरकार की प्राथमिकता है और शिक्षा में दिल्ली मॉडल को मुंबई में भी प्रथमिक स्तर पर पायलट योजना स्तर पर लागू किया जाए।

इस बात बीएमसी को भी  दिल्ली मॉडल का अध्ययन करने और और एक रूपरेखा विकसित करने के लिए कहा गया है।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें