जहां चाह...वहां राह

घाटकोपर - कहते हैं की कड़ी मेहनत और सकारात्मक सोच का फल कभी बेकार नहीं जाता। फिर चाहे हालात कितने भी विपरीत क्यों ना हो। मुंबई के घाटकोपर में रहने वाली स्टेफी परेरा ने लाख मुसीबतों का सामना कर सीए की परीक्षा पास की है।

स्टेफी के पिता रिक्शा ड्राइवर हैं। परिवार को अच्छा पालन पोषण देने के लिए स्टेफी के पिता फ्रान्सिस दिन रात रिक्शा चलाते हैं। स्टेफी का परिवार घाटकोपर के लक्ष्मीनगर में एसआरए इमारत में रहता है। परिवार की आर्थिक स्थिति को मात देते हुए स्टेफी ने यह मुकाम हासिल किया।

स्टेफी की मां मीना परेरा ने भी अपने पति के बोझ को हल्का करने के लिए दूसरों के घरों में काम करना शुरु किया। स्टेफी अपना मुकाम हासिल करने के लिए 10 से 16 घंटे तक पढ़ाई करती थी।

Loading Comments