ट्रेलर लॉन्चः ‘सीक्रेट सुपरस्टार’ सपनों की लड़ाई!

Mumbai
ट्रेलर लॉन्चः ‘सीक्रेट सुपरस्टार’ सपनों की लड़ाई!
ट्रेलर लॉन्चः ‘सीक्रेट सुपरस्टार’ सपनों की लड़ाई!
ट्रेलर लॉन्चः ‘सीक्रेट सुपरस्टार’ सपनों की लड़ाई!
ट्रेलर लॉन्चः ‘सीक्रेट सुपरस्टार’ सपनों की लड़ाई!
See all
मुंबई  -  

‘सपने देखना तो बेसिक होता है, इतना तो सबको अलाउड होना चाहिए’ इसी लाइन को लेकर आगे बढ़ रही है आमिर खान की फिल्म ‘सिक्रेट सुपरस्टार’। आमिर खान स्क्रिप्ट को तो अच्छे से पढ़ते ही हैं साथ ही वे अपने किरदार के बारे में भी बारीकी से समझते हैं, तभी फिल्म को हां करते हैं। ‘लगान’, ‘तारे जमी पर’ और ‘दंगल’ जैसी बेहतरीन फिल्में बनाने के बाद आमिर खान प्रोडक्शन ने ‘सीक्रेट सुपरस्टार’ फिल्म बनाई है। इसमें फिल्म ‘दंगल’ की एक्टर जायरा वसीम और आमिर खान प्रमुख भूमिका हैं। इस फिल्म का ऑफिशियल ट्रेलर मीडिया के सामने आज (बुधवार) रिलीज किया गया।

फिल्म की जान हैं इन्शू (जायरा वसीम) जो दुनियां भर को अपनी आवाज सुनाना चाहती है, पर उसके सामने मुश्किलें बहुत हैं। अब वह इन मुश्किलों से जूझते हुए कैसे अपने सपने को पाती है इसमें शक्ति कुमार (आमिर खान) का भी बड़ा योगदान है। फिल्म के जरिए कहीं ना कहीं लड़की और लड़के के बीच के फर्क को दिखाया गया है। जो समाज की एक बहुत बड़ी समस्या है। लोग लड़के को अलग तरह से ट्रीट करते हैं और लड़की को अलग। ट्रेलर लॉन्च पर आमिर खान के साथ उनकी पत्नी किरण राव और जायरा वसीम मौजूद थी। इस दौरान फिल्म के अलावा विविध मुद्दों पर बातें हुईं, तो आइए मारते हैं एक नजर।


फोटोग्राफर के लिए 2 मिनट का मौन

आमिर खान ने ‘सीक्रेट सुपरस्टार’ के ट्रेलर लॉन्च से पहले फोटोग्राफर राजू उपाध्याय को याद किया। उन्होंने कहा कि यह बड़े ही दुख की बात है कि राजू उपाध्याय आज हमारे बीच नहीं हैं, उनकी सड़क हादसे में मौत हो गई। यह खबर मुझे उस वक्त मिली जब मैं विदेश में था। साथ ही आमिर खान ने मीडिया से राजू उपाध्याय की आत्मा की शांति के लिए 2 मिनट का मौन रखने की अपील की। सभी ने खड़े होकर मौन रखा, आमिर के इस कदम से मीडिया भी काफी प्रभावित हुआ।  


सपनों की लड़ाई

आमिर खान ने माना कि ‘सीक्रेट सुपरस्टार’ फिल्म ‘दंगल’ जैसी फिल्म है। उनका कहना है कि हम लड़के और लड़कियों को एक नजर से नहीं देखते। हम लड़कियों को अलग ट्रीट करते हैं और लड़को को अलग।

इस मुद्दे पर किरण राव ने भी अपनी राय रखते हुए कहा कि हमारे समाज में हजारों सालों से महिला को दूसरा दर्जा ही दिया गया है। यह शर्म की बात है कि लड़कियों, औरतों को अपने अधिकारों के लिए लड़ना पड़ रहा है। पर कोई बात नहीं मेरा मानना है कि हमें अपनी लड़ाई बंद नहीं करनी चाहिए। यह फिल्म भी यही सिखाती है कि अपने सपनों को मरने मत दो उनके लिए लड़ो।


सलमान खान और स्टारडम

आमिर खान ने कहा कि शाहरुख और सलमान खान मेगास्टार हैं मैं खुद उनके काम का कायल हूं। मैं नहीं मानता की एक-दो फिल्मों के फ्लॉप होने से किसी की स्टारडम चली जाती है। दरअसल मीडिया द्वारा पूछे गए सवाल कि सलमान खान कि फिल्म ‘ट्यूबलाइट’ फ्लॉप हो गई तो क्या उनकी स्टारडम खतम हो जाएगी? इसके जवाब में आमिर खान ने यह कहा।


बच्चों के लिए नहीं देश में फिल्में

आमिर खान को एक बेटी है ईरा और दो बेटे हैं जुनैद और आजाद राव। उनका कहना है कि भारत में बच्चों और टीनेजर्स के लिए फिल्में नहीं बनाई जा रही हैं। हालांकि लोगों को इनके लिए फिल्में बनानी चाहिए। यही वजह है कि मैंने अपने बच्चों को बाहर की एनिमेटेड फिल्में दिखाई हैं।


‘दंगल’ के लोगों का मिला प्यार

जायरा से पूछा गया कि फिल्म ‘दंगल’ के बाद जिंदगी में कितने बदलाव आए हैं? इस पर उन्होंने कहा कि ‘दंगल’ के बाद वैसे तो कुछ खास नहीं बदला है। हां मेरे बाल जरूर कट गए थे जो अब बड़े हो गए हैं। मुझे अब लोगों का प्यार बहुत ज्यादा मिलने लगा है।


किरण राव सिंगर और एक्टर

आमिर खान ने कहा कि किरण राव एक बहुत बेहतरीन एक्टर हैं। किरण फिल्म ‘धोबी घाट’ के लिए जिस तरह से यास्मीन के किरदार को नरेट कर रहीं थी मुझे लगा कि उनके अंदर एक बड़ा एक्टर छुपा है, मैंने उनसे इस किरदार को करने के लिए कहा पर उन्होंने नहीं किया। किरण बहुत जिद्दी हैं मेरी बात नहीं मानती। साथ ही आमिर ने बताया कि किरण एक अच्छी सिंगर भी हैं। बड़ी मन्नत के बाद किरण ने इवेंट के दौरान एक मराठी गाना गाया। और आमिर खान ने आती क्या खंडाला...गाना गाया।


Loading Comments

संबंधित ख़बरें

© 2018 MumbaiLive. All Rights Reserved.