'फिल्मसिटी में नवजोत सिंह सिद्धू और पाकिस्तानी कलाकारों के प्रवेश पर लगे प्रतिबंध'

FWICE के जनरल सेक्रेटरी अशोक दुबे के हस्ताक्षर वाले इस पत्र में लिखा गया है कि फिल्म सिटी में नवजोत सिंह सिद्धू और पाकिस्तानी कलाकारों और सिंगरों के प्रवेश पर पूरी तरह से रोक लगाईं जाए और उनसे संबंधित कोई भी शूटिंग करने की अनुमति ना दी जाए।

SHARE

पूर्व भारतीय क्रिकेटर और कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू को पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद पाकिस्तान के पक्ष में बयान देना काफी भारी पड़ता जा रहा है। जहां एक तरफ पूरे देश में सिद्धू के बयान को लेकर आलोचना हो रही है तो वहीं दूसरी तरफ अब मुंबई फिल्म सिटी में उनकी एंट्री को बैन करने की मांग हो रही है। फेडरेशन ऑफ वेस्टर्न इंडिया सिने इंम्पलाईज (FWICE) ने मुंबई में गोरेगांव स्थित दादा साहेब फाल्के चित्रनगरी (फिल्म सिटी) के प्रबंध निदेशक को एक पत्र लिखकर फिल्म सिटी में सिद्धू की एंट्री पर रोक लगाने की मांग की हैं। 

FWICE के जनरल सेक्रेटरी अशोक दुबे के हस्ताक्षर वाले इस पत्र में लिखा गया है कि फिल्म सिटी में नवजोत सिंह सिद्धू और पाकिस्तानी कलाकारों और सिंगरों  के प्रवेश पर पूरी तरह से रोक लगाईं जाए और उनसे संबंधित कोई भी शूटिंग करने की अनुमति ना दी जाए। साथ ही उसमे यह भी कहा गया है कि FWICE का कोई भी सदस्य चाहे वह भारत बल्कि विदेशों में भी पाकिस्तानी कलाकारों और गायकों के साथ काम नहीं करेगा।

आपको बता दें कि FWICE में कुल 29 यूनियन शामिल हैं जिसके लाखो सदस्य हैं, और ये सभी सदस्य फिल्म और सीरियल से सम्बंधित शूटिंग अथवा अन्य कार्यों से जुड़े हुए हैं।

गौरतलब है कि  कश्मीर के पुलवामा में हुये आतंकी हमले में 40 सीआरपीएफ के जवानों के शहीद होने के बाद पूर्व क्रिकेटर और कांग्रेस नेता नवजोत सिद्धू ने अपने बयान में पाकिस्तान का पक्ष लेते हुए कहा था कि मुट्ठीभर लोगों के लिए पूरे देश को जिम्मेदार कैसे ठहराया जा सकता है। उन्होंने आगे यह भी कहा था कि आंतक का कोई देश, जाति और धर्म नहीं होता।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें

'फिल्मसिटी में नवजोत सिंह सिद्धू और पाकिस्तानी कलाकारों के प्रवेश पर लगे प्रतिबंध'
00:00
00:00