दिग्गज चीनी डायरेक्टर स्टीफन लाम और झांग यिमौ के साथ जुड़ें गौरांग दोषी

एक्टर जेट ली स्टारर फिल्म शाओलिन टेंपल, कोल्ड वार, लस्ट, हीरो सहित कई बेहद सफल फिल्में बनाने वाले प्रसिद्ध डायरेक्टर स्टीफन लाम और झांग यिमौ भी इस नए प्रोजेक्ट्स के लिए दोषी के साथ हाथ मिलाएंगे।

SHARE

बॉलीवुड डायरेक्टर गौरांग दोषी ग्लोबल कंटेंट आधारित प्रोजेक्ट्स पर काम करने के मिशन पर हैं और अपना लक्ष्य पाने की दिशा में वे तेजी से कदम बढ़ा रहे हैं। हाल ही में अबू धाबी के शाही परिवार के साथ साझेदारी में एक महत्वपूर्ण एसोसिएशन की घोषणा करने के लिए वे शंघाई पहुंचे। यह एसोसिएशन बॉलीवुड, हॉलीवुड, यूरोप और दुनिया को फिल्म, मीडिया, पर्यटन, फैशन और संस्कृति के क्षेत्र में एक साथ लाएगा।

एक्टर जेट ली स्टारर फिल्म शाओलिन टेंपल, कोल्ड वार, लस्ट, हीरो सहित कई बेहद सफल फिल्में बनाने वाले प्रसिद्ध डायरेक्टर स्टीफन लाम और झांग यिमौ भी इस नए प्रोजेक्ट्स के लिए दोषी के साथ हाथ मिलाएंगे। रील के पीछे तीन मास्टरमाइंड-दोनों देशों की संस्कृतियों, परंपराओं और भावनाओं को समेटने वाली फिल्में बनाने के लिए एक साथ काम करेंगे।

 दो दशक के फिल्म निर्माण के अनुभव के दौरान दोषी ने भारतीय फिल्मों के प्रति चीनी दर्शकों की बढ़ती रुचि को देखा है। 3 इडियट्स और दंगल से लेकर मॉम और अंधाधुन तक हिंदी फिल्मों ने सीमाओं से परे जाकर चीनी दर्शकों को जोड़ा। इन बातों और दर्शकों की पसंद के मद्देनजर दोषी का स्टीफ़न और झांग के साथ जुड़ाव से कहानियों का गहन आदान-प्रदान होगा। चीन में बॉलीवुड फिल्मों की रिलीज से संबंधित जटिलताओं को ध्यान में रखते हुए उन्होंने चीन के सबसे बड़े डिस्ट्रीब्यूशन हाउसेज में शुमार वेजी झू (WEIJIE ZHU) के साथ साझेदारी की है जो चीन में बॉलीवुड कंटेंट के डिस्ट्रीब्यूशन को आसान बनाएगा। गौरांग दोषी ने अपनी आगामी फिल्में ‘आंखें रिटर्न्स’, ‘हैप्पी एनिवर्सरी’ और ‘इंडियंस इन डेंजर’ चीन में डिस्ट्रीब्यूट करने का लक्ष्य रखा है। इस साझेदारी से उनको बहुत मदद मिलेगी।

उनके ये कठिन प्रयास अपनी सभी फिल्मों के डिस्ट्रीब्यूशन को आसान बनाने के लिए हैं और यह भारतीय फिल्म इंडस्ट्री के लिए भी एक बढ़िया अवसर है क्योंकि यह चीन में फिल्म वितरण के लिए आसान रास्ते खोलता है। साथ ही यह कई भारतीय फिल्म निर्माताओं के लिए नए मौके उपलब्ध कराएगा जब वे चीन में संयुक्त रूप से गौरांग दोषी प्रोडक्शंस के साथ फिल्में बनाते हैं।

गौरांग दोषी का कहना है, हिंदी-चीनी हमेशा से भाई-भाई रहे हैं! यह जुड़ाव हमें अपनी समानताएं तलाशने, अपने मतभेदों को सुलझाने व दोनों देशों के बीच प्रेम और सद्भाव को बढ़ावा देने का अवसर मुहैया कराएगा। स्टीफ़न और झांग दोनों ही ऐसे डायरेक्टर हैं जिन्हें हमेशा मैंने उनकी मास्टरी, शिल्प और फ़िल्म व्यवसाय की उनकी समझ के लिए देखा है। मैं उनके साथ काम करने और विचारों का आदान-प्रदान शुरू करने को लेकर बेहद उत्साहित हूं।

 स्टीफ़न लाम कहते हैं, गौरांग के पास बिजनेस और अच्छे डायरेक्शन की बहुत अच्छी समझ है। मैं उनके साथ जुड़ने को लेकर खुश हूं। 

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें