बच्चों के डांस रियलिटी शो को लेकर शख्त हुआ आईबी मंत्रालय!

मंत्रालय की ओर से जारी आधिकारिक बयान के अनुसार, ऐसे (डांस) मूव्ज अक्सर अभद्र और उम्र के हिसाब से गलत होते हैं। बच्चों पर इनका गलत प्रभाव पड़ सकता है।

SHARE

सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय का सभी निजी सेटेलाइट चैनलों के प्रति कड़ा रुख देखने को मिला है। हाल ही में उन्होंने कहा है कि सभी सेटेलाइट चैनल डांस रियलिटी शो और अन्य कार्यक्रमों में बच्चों को अश्लील और अभद्र तरीके से दिखाने से बचें। सूचना एवं प्रसारण (आईबी) मंत्रालय ने यह देखा है कि विभिन्न डांस रियलिटी टीवी शो में छोटे बच्चों को ऐसा डांस करते हुए दिखाया जाता है, जिसे फिल्मों या मनोरंजन के अन्य माध्यमों में वयस्कों पर फिल्माया गया है।

आईबी मंत्रालय की ओर से जारी आधिकारिक बयान के अनुसार, ऐसे (डांस) मूव्ज अक्सर अभद्र और उम्र के हिसाब से गलत होते हैं। बच्चों पर इनका गलत प्रभाव पड़ सकता है, बेहद कम और सीखने की आयु में उनपर खराब प्रभाव हो सकता है। सभी चैनलों को भेजे हुए परामर्श में सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने कहा है कि सभी निजी सेटेलाइट चैनलों से अपेक्षा की जाती है कि वे केबल टीवी नेटवर्क (नियमन) अधिनियम, 1995 के तहत तय कार्यक्रम एवं विज्ञापन कोड के प्रावधानों का पालन करेंगे।

नियमों के अनुसार, टीवी पर दिखाए जाने वाले किसी भी कार्यक्रम में बच्चों को गलत तरीके से पेश न किया जाए और बच्चों के लिए बनाए गए कार्यक्रम में गलत भाषा तथा हिंसक दृश्यों का प्रयोग ना किया जाए। बयान के अनुसार, चैनलों से कहा गया है कि ऐसे रियलिटी शो और कार्यक्रम दिखाते वक्त वे अधिकतम संयम, संवेदनशीलता और सतर्कता बरतें।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें