‘खजाना’ गजल फेस्ट और पंकज उधास!

 Mumbai
‘खजाना’ गजल फेस्ट और पंकज उधास!

चिठ्ठी आई है...गाना सुनकर आज भी लोगों की आंखें नम हो उठती हैं। इस गाने ने पंकज उधास को एक नई पहचान दिलाई। इस गजल सम्राट ने एक से बढ़कर एक बेहतरीन गजलें गाई हैं। पर शायद कम ही लोगों को पता होगा कि पंकज कैंसर पीड़ितों के लिए भी पिछले 16 सालों से काम कर रहे हैं। पंकज कैंसर पेशंट्स एड असोसिएशन (सीपीएए), पेरेंट्स असोसिएशन थेलसेमिक यूनिट ट्रस्ट (पीएटीयूटी) और द ओबरॉय के साथ पिछले 16 सालों से जुड़े हैं।


गजल फेस्ट

हर साल ट्रायडंट होटल में ‘खजाना’ गजल फेस्टिव का आयोजन किया जाता है। यह फेस्टिवल दो दिनों तक चलता है। इसमें सीनियर से लेकर युवा गायक, संगीतकार और गजल गायक हिस्सा लेते हैं। अपने गानों से समां बांधते हैं और इस फेस्ट से जो भी धनराशि एकत्र होती है, वह कैंसर पीड़ितों को जाती है। इस साल इसका आयोजन 21 और 22 जुलाई को शाम 7 बजे होटल ट्रायडंट में किया जाएगा।


युवाओं के लिए ‘खजाना’ एक बेहतर प्लेटफॉर्म

वैसे तो आज की फिल्मों में गजलें दिखाई नहीं देती, पर इसका मतलब यह बिलकुल भी नहीं है कि लोगों को गजल पसंद नहीं हैं। युवा भी गजलों के शौकीन हैं, कई युवा ऐसे भी हैं जो गजलें गाना चाहते हैं। ऐसे ही कलाकारों को हर साल प्लेटफॉर्म देने का काम ‘खजाना’ फेस्ट करता आ रहा है। हर साल इस कार्यक्रम के लिए ज्यादा से ज्यादा युवाओं को मौका दिया जाता है।


विदेशियों की पसंद गजल फेस्ट

प्रसिद्ध गायक अनूप जलोटा और रेखा भारद्वाज ने कहा, ‘खजाना’ दिन प्रतिदिन बढ़ता जा रहा। अब तो विदेश से भी लोग पूछते हुए आते हैं कि ‘खजाना’ फेस्टिवल कब है? उसी हिसाब से वे मुंबई आने की तैयारी करते हैं। पर कई लोगों को तो फेस्ट के पासेस भी नहीं मिल पाते हैं, क्योंकि कैंसर पीड़ितों की सहायता करने वाले पहले से पासेस ले लेते हैं।


इस साल ‘खजाना’ भरेगा खजाना

पिछले साल ‘खजाना’ गजल फेस्ट का आयोजन होटल ट्रायडंट में ही किया गया था। जिसे काफी अच्छा रिस्पॉन्स मिला था। इस फेस्ट के माध्यम से लगभग 81 लाख की कमाई हुई थी। जिसका उपयोग कैंसर पीड़ितो के लिए हुआ। इस साल आसार लगाए जा रहे हैं कि यह कमाई बढ़कर करोड़ के आसपास होगी।


न्यूयॉर्क तक पहुंचेगी गजलों की महक



पंकज उधास का कहना है, अब वक्त आ गया है जब ‘खजाना’ गजल फेस्टिवल दुनियां भर के शहरों में पहुंचेगा। पहले दिल्ली, कोलकाता चेन्नई जैसे बड़े बड़े शहरों के बाद लंदन और न्यूयॉर्क भी पहुंचेगा। खजाना को बड़ा करने का मकसद ज्यादा से ज्यादा नए कलाकारों को मौका देना साथ ही कैंसर पीड़ितों की मदद करना।

इसके अलावा पंकज ने आतंकवाद के मुद्दे पर कहा कि, आतंकवाद का कोई धर्म नहीं होता। यह बड़े ही दुख की बात है, कि निर्दोष लोगों को निशाना बनाया जा रहा है। मैं यही दुआ करूंगा कि पूरी दुनियां से आतंकवाद खत्म होना चाहिए।  


इस साल के ‘खजाना’ में कौन कौन?

महान गजल गायक पंकज उधास, भूपिंदर सिंह, मिताली सिंह, अनूप जलोटा, तलत अजीज, रेखा भारद्वाज, सुदीप बैनेर्जी, पैपोन, जावेद अली, सोनम महापात्रा, पार्थिव गोहिल, समीर दाते, दिपाली दाते, पूजा गायतोंडे, गायत्री अशोकन, आभास जोशी, मिरांडे शाह, स्नेहा शंकर आदि।


प्रेस कॉन्फेंस का फुल वीडियो यहां


Loading Comments 

Related News from मनोरंजन