राष्ट्रिय फिल्म 'दुत्कार'

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद द्वारा केवल 11 लोगों को राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार देने के निर्णय के बाद 70 कलाकारों पुरस्कार वितरण समारोह का विरोध किया। राष्ट्रपति ने अपने व्यस्त समय का हवाला देते हुए यह निर्णय लिया था। जबकि हर साल राष्ट्रपति सभी को अपने हाथों से सम्मनित करते थे।