‘तारक मेहता’ के कलाकारों ने किया स्पेशल बच्चों का स्वागत

असित कुमार मोदी ने बताया, यह एक बड़ा ग्रुप था पर हम इसलिए मान गए क्योंकि बच्चे अपने स्कूल के सभी दोस्तों और टीचर के संग आना चाहते थे। जब वे गोकुलधाम सोसाइटी में पहुंचे तब पहले तो उन्हें अपनी आंखों पर विश्वास ही नहीं हुआ। फिर वे खुशी के मारे कूदने लगे।

SHARE

टीवी के पॉपुलर शो में से एक ‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ लोगों को एंटरटेन करने के अलावा यह शो सामाजिक विषयों को उठाने के लिए जाना जाता है। फरवरी 2019 में टीम ने 'द स्टीफेन हाई स्कूल फॉर द डेफ एंड एफेसिक' के बच्चों का स्वागत किया और उनका मोरंजन किया। 

स्कूल की प्रधानाचार्य श्रीमती ओलिविया मोरेस अपने स्टाफ व स्कूली बच्चों के साथ तारक मेहता के सेट पर आईं क्योंकि सारे बच्चे इस शो के बहुत बड़े प्रशंसक हैं। इन स्पेशल बच्चों से घिरे दिलीप जोशी ने कहा,  इन बच्चों से मिल कर बहुत सुख और संतोष मिला। गोकुलधाम आकर और सभी कलाकारों को देखने पर उनकी मुस्कुराहट बहुत ही विशुद्ध थी।  अपनी जिंदगी में विजयी हैं,  मैं उनके माता पिता को सलूट करता हूं जो उन्हें न केवल पूरा सहयोग देते हैं बल्कि उन्हें जीवन के प्रति सकारात्मक सोंच भी देते हैं।

असित कुमार मोदी ने बताया, यह एक बड़ा ग्रुप था पर हम इसलिए मान गए क्योंकि बच्चे अपने स्कूल के सभी दोस्तों और टीचर के संग आना चाहते थे।  जब वे गोकुलधाम सोसाइटी में पहुंचे तब पहले तो उन्हें अपनी आंखों पर विश्वास ही नहीं हुआ। फिर वे खुशी के मारे कूदने लगे। 

शैलेश लोढ़ा और अमित भट्ट (बापू जी) ने भी उनके साथ काफी मस्ती करी। कई बच्चे गोकुलधाम में स्थित मंदिर भी गए और अपने नन्हे नन्हे हाथों में प्रसाद लेकर लौटे। शही को ये जान कर बहुत आश्चर्य हुआ कि कोई भी कलाकार असली में इस सोसाइटी में नहीं रहता।  अंत में कोई भी वहां से वापिस स्कूल या घर जाने के लिए तैयार नहीं था।


संबंधित विषय
ताजा ख़बरें