Advertisement

मुंबई में 3 दिनों से हो रही है आफत की बारिश, मकान, पेड़ गिरने की भी घटनाएं आई सामने

जहां एक तरफ मुंबई पहले से ही एक कोरोना वायरस से जूझ रही है तो वहीं दूसरी तरफ वह इस बारिश में पानी-पानी हो रही है।

मुंबई में 3 दिनों से हो रही है आफत की बारिश, मकान, पेड़ गिरने की भी घटनाएं आई सामने
SHARES

मुंबई में पिछले 3 दिनों से हो रही लगातार बारिश (rain in mumbai) अब आफत की बारिश बनती जा रही है। मुंबई में, कोलाबा में 39.0 मिमी और सांताक्रूज में 80.2 मिमी बारिश बुधवार शाम 5.30 बजे तक दर्ज की गई। जबकि दिन के समय मुंबई में भारी बारिश के कारण कई निचले इलाकों में जलभराव (water logging in mumbai) हो गया, जिससे ट्रैफिक जाम (traffic jam in mumbai) की स्थिति पैदा हो गई।  

इसके अलावा BMC ने बताया कि अब तक कुल 24 स्थानों पर पेड़ गिर गए, सोमवार को ही 13 स्थानों पर पेड़ गिरने की खबर सामने आई। जिसमें शहर में 4 पेड़, पूर्वी उपनगरों में 7 और पश्चिमी उपनगरों में 13 पेड़ गिरे हैं।

इसके साथ ही 6 स्थानों पर शॉर्ट सर्किट हुआ, शॉर्ट सर्किट की ये घटनाएं बुधवार को, मुंबई में 6 जगहों पर हुईं। जिसमें 1 घटना शहर में, 2 पूर्वी उपनगरों में और 3 पश्चिमी उपनगरों में हुई।

वहीं, मुंबई में बुधवार को मूसलाधार बारिश से 4 जगहों पर दुर्घटनाएं हुईं, जहां मकान या उनकी दीवारें ढह गईं। मुंबई के ग्रांट रोड इलाके में एक तीन मंजिला इमारत की पहली मंजिल पर स्थित एक मकान का एक हिस्सा ढह गया।  इस इमारत में 20 परिवार रहते थे। जिन्हें सुरक्षित स्थानों पर स्थानांतरित कर दिया गया है। हादसे में दो व्यक्ति मामूली रूप से घायल हो गए।  उन्हें पुलिस द्वारा नजदीकी अस्पताल ले जाया गया।  सौभाग्य से, इन सभी प्राकृतिक आपदाओं में कोई जनहानि नहीं हुई।

गुरुवार को सुबह तक मूसलाधार बारिश के कारण हिंदमाता, दादर टीटी, सायन रोड नंबर 24, रुइया कॉलेज, शेखर मेस्त्री रोड माटुंगा, बीपीटी कॉलोनी, तिलक ब्रिज दादर, अंधेरी सबवे, खार लिंक रोड, खास सबवे में पानी भर गया था। इससे कुछ समय के लिए बड़ा यातायात जाम हो गया था।  इसके बाद  यातायात को डाइवर्ट करना पड़ा। BMC प्रशासन ने स्पष्ट किया कि पानी के निकासी के बाद यातायात सुचारू हो गया।

जहां एक तरफ मुंबई पहले से ही एक कोरोना वायरस से जूझ रही है तो वहीं दूसरी तरफ वह इस बारिश में पानी-पानी हो रही है। 

संबंधित विषय
Advertisement