Gnapati Utsav: इंडो-पाक बॉर्डरचा राजा कश्मीर हुए रवाना

कश्मीर के पुंछ की रहने वाली किरण इशर नामकी महिला पिछले 4 साल से अपने यहां सार्वजनिक गणेश मंडल की स्थापना कर बप्पा की पूजा अर्चना करती हैं।

SHARE

भारत-पाकिस्तान में शांति बहाली होने की प्रार्थना के बीच गणपति बप्पा भारत-पाकिस्तान के बॉर्डर के लिए रवाना हो गए। इसके पहले आप कुछ न समझें आपको बता दें कि कश्मीर के पुंछ की रहने वाली किरण इशर नामकी महिला पिछले 4 साल से अपने यहां सार्वजनिक गणेश मंडल की स्थापना कर बप्पा की पूजा अर्चना करती है। किरण के यहां कई हिंदू परिवार सहित सेना और BSF के जवान भी आकर पूजा अर्चना करते हैं।  

बॉर्डर पर बप्पा 
बप्पा की भक्त किरण इशर 4 सालों से मुंबई आती हैं और मुंबई से ही अपने गांव के लिए बप्पा की मूर्ति लेकर जाती हैं जिसे वहां 'इंडो-पाक बॉर्डरचा राजा' कहा जाता है। इस बार भी किरण मुंबई आईं और सोमवार को बप्पा की मूर्ति लेकर कश्मीर के लिए रवाना हुईं। इस बार किरण कुल तीन मूर्तियां लेकर कश्मीर गयीं हैं, इनमें से एक 6.5 फीट ऊँची मूर्ति है। इस बड़ी वाली मूर्ति को इशर अपने यहां स्थापित करेंगी और दोनों छोटी मूर्तियों को वहां की सेना अपने बंकर में स स्थापित करेगी।  


इशर ने विदा होते समय कहा कि कश्मीर से 370 हटने के बाद से पाकिस्तान और भारत के बीच काफी तनाव बढ़ गया है, बप्पा के आशीर्वाद से दोनों देशों के बीच के तनाव कम होंगे।

पढ़ें: Ganpati Utsav: भारत-पाकिस्तान तनाव होंगे दूर, बॉर्डर पर 4 साल से सज रहा है बप्पा का दरबार

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें