Advertisement
COVID-19 CASES IN MAHARASHTRA
Total:
59,17,121
Recovered:
56,54,003
Deaths:
1,12,696
LATEST COVID-19 INFORMATION  →

Active Cases
Cases in last 1 day
Mumbai
15,390
575
Maharashtra
1,47,354
9,350

छठ पूजा के लिए राज्य सरकार ने जारी की गाइड लाइन

जारी दिशा निर्देशों को लेकर देशमुख (anil deshmukh) ने कहा, इन निर्देशों का पालन किया जाना चाहिए।

छठ पूजा के लिए राज्य सरकार ने जारी की गाइड लाइन
SHARES

कोरोना संक्रमण (Corona pandemic) को देखते हुए महाराष्ट्र सरकार (maharashtra government) की तरफ से छठ पूजा (chhath puja) के लिए दिशा निर्देश जारी (guide line) किए गए हैं। गृहमंत्री अनिल देशमुख (home minister anil deshmukh) ने अपील की है कि, इस साल उत्तर भारतीयों का छठ पूजा का त्योहार सादगी से मनाएं। जारी दिशा निर्देशों को लेकर देशमुख (anil deshmukh) ने कहा, इन निर्देशों का पालन किया जाना चाहिए। गौरतलब है कि, प्रशासन की तरफ से इस बार सार्वजनिक जलाशयों पर एकत्र होकर छठ पूजा करने पर रोक लगा दी गई है।

मार्गदर्शक सूचना

1) कोरोना (Covid19) के प्रसार को रोकने के लिए, नागरिकों को झीलों और समुद्र के किनारों पर एकत्रित होने से बचना चाहिए और घर पर रहकर ही छठ पूजा को सिंपल तरीके से मनाना चाहिए।

2) BMC, जनप्रतिनिधियों, गैर सरकारी संगठनों की मदद से कृत्रिम झीलों का निर्माण किया जाना चाहिए।  साथ ही, कोरोना वायरस (Coronavirus) के प्रकोप को रोकने के लिए उचित सुरक्षा और स्वच्छता के उपाय किए जाना चाहिए।

3) छठ पूजा मनाने के स्थान पर किसी भी प्रकार का कोई मंडप नहीं बनाया जाना चाहिए। कोई भी धार्मिक या सांस्कृतिक गतिविधियों का आयोजन नहीं किया जाना चाहिए। पटाखों की आतिशबाजी और ध्वनि पर रोक लगाई गयी है।

4) छठ पूजा के दौरान लोगों को मास्क (mask) पहनना जरूरी होगा साथ ही सामाजिक दूरी (social distance)का पालन करना अनिवार्य होगा। जहां तक हो सके पूजा स्थल पर बुजुर्ग नागरिकों और बच्चों को कार्यक्रम स्थल पर नहीं ले जाएं।

5) छठ पूजा के स्थान पर सेनेटाइज की व्यवस्था की जानी चाहिए। सामाजिक दूरी नियमों के साथ-साथ स्वच्छता नियमों (मास्क, सैनिटाइज़र) के पालन पर विशेष ध्यान दिया जाना चाहिए।

 6) लोग नियमों का पालन करें इसके लिए राहत, पुनर्वास, स्वास्थ्य, पर्यावरण, स्वास्थ्य चिकित्सा विभाग के साथ-साथ संबंधित नगर निगम, पुलिस, स्थानीय प्रशासन पर इसकी जिम्मेदारी होगी। यदि इस परिपत्र के बाद और वास्तविक उत्सव के दिन के बीच कोई नया निर्देश जारी किया जाता है, तो उसका भी अनुपालन करना अनिवार्य होगा।

Read this story in English or मराठी
संबंधित विषय
Advertisement
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें