मुंबई में इन जगहों पर खाए वड़ापाव, नहीं भूलेंगे स्वाद!

मैगी वड़ापाव , चिकन वड़ापाव जैसे कई और वड़ापाव के स्वाद आपको जुबान पर हमेशा रहेंगे

  • मुंबई में इन जगहों पर खाए वड़ापाव, नहीं भूलेंगे स्वाद!
  • मुंबई में इन जगहों पर खाए वड़ापाव, नहीं भूलेंगे स्वाद!
  • मुंबई में इन जगहों पर खाए वड़ापाव, नहीं भूलेंगे स्वाद!
  • मुंबई में इन जगहों पर खाए वड़ापाव, नहीं भूलेंगे स्वाद!
  • मुंबई में इन जगहों पर खाए वड़ापाव, नहीं भूलेंगे स्वाद!
SHARE

वडापाव का नाम आते ही मुंह में पानी आ जाता है। मुंबई और महराष्ट्र में वड़ापाव की अपनी एक अलग ही पहचान है।  मुंबई और आसपास के इलाको में कई तरह के वड़ापाव आपको मिल जाएंगे। हर पांच मील, जैसे-जैसे भाषा बदलती है, वैसे-वैसे वाडापव का अवतार भी।  कई लोग ना ही सिर्फ वड़ा पाव के लिए बल्की उसके साथ मिलनेवाली चटनी के स्वाद के लिए भी कायल होते है। 

आज हम आपको कुछ अलग तरह के वडापाव से परिचित कराने जा रहे हैं। ये वड़ा पाव इतने स्वादिष्ठ और मशहूर है की एक बार खाने के बाद आप इन वड़ापाव को बार बार खाने के बारे में जरुर सोचेंगे। 

मैगी वाडापव, लक्ष्मण ओम वाडापव

मुंबई की हर गली में आपको वड़ापाव की दुकान दिख जाएगी। यहाँ की प्रत्येक दुकान और यहाँ के वड़ो ने अपने स्वाद से अलग पहचान बनाई है। इन्हीं में से एक हैं घाटकोपर का लक्ष्मण ओम वडापाव।  लक्ष्मण ओम वडापाव का मैगी वड़ापाव काफी मशहूर है।  वड़ा पाव के अंदर मैगी डालकर उसे चटनी के साथ दिया जाता है जो इसका स्वाद और भी लाजवाब कर देता है।वडापाव बनाने के लिए विशेष मसालों का उपयोग किया जाता है।

कहां: लक्ष्मण ओम वडापाव, 19 बिल्डिंग 104  गरोडिया नगर, घाटकोपर (पू.)
कब: सुबह बजे से रात बजे तक

चिवड़ा वडापावठाकूर स्नॅक्स


1973 में शुरु किया गया यह वड़ा पाव का स्टॉल अपने अलग वड़ापाव के लिए काफी मशहूर है।  यहां दिए जाने वाला वड़ापाव चिवड़ा के साथ दिया जाता है।  लहसुन की चटनीकटे हुए आमछोले, सीताफल और कॉर्नफ्लेक्स से ये चिवड़ा तैयार किया जाता है।   ठाकूर स्नॅक्स एक दिन में लगभग 1000 वड़ापाव बेचता है।

कहां- ठाकूर स्नॅक्स (ठाकूर वडापाव), पी.पी. चेंबर्स के पीछे , डोंबिवली

कब : सुबह 10 बजे से रात 10 बजे तक 


किमत – लगभग 25 रुपये 


चकली और लेस वडापाव, राजेश प्रोविजन स्टोअर

आपने पनीर वडापव, सीजवान वडापव की कई किस्मों का आनंद लिया होगा। लेकिन क्या आपने कभी वडापाव और चकली की दो अलग-अलग किस्में खाई हैं? वडाला के राजेश प्रोविजन स्टोर में आपको चलकी वाडापव नाम का एक अलग ही वड़ापाव मिलेगा। वड़ा पाव में चकली को डाला जाता है , जिसके वड़ापाव का एल अलग ही टेस्ट आता है। 

.

कहां: राजेश प्रोविजन स्टोर, अंद्रा स्कूल के सामने, लोकमान्य तिलक स्कूल के आगे  , वडाला

कब: सुबह से शाम बजे

मूल्य: लगभग 25


जैन वडापावटिप टॉप

वड़ापाव का नाम आते ही सबसे पहले मन में ख्याल आता है आलू का। लेकिन जैन वडापाव, में आलू कू जगह केले का इस्तेमाल किया जाता है।  इस वड़ापाव में कच्चे केले को स्मैश कर उसमें कड़ीपत्ता और राई का तड़का दिया जाता है। इसके बाद  चने के आटे में उठे डालकर फिर वड़ापाव के अनुसार तला जाता है।  

 

कहां : टिप टॉप, खाऊ गली, टिलक रोड, घाटकोपर (पू.)

कब- सुबह 10 बजे से रात 9 बजे तक 

किमत- लगभग 30 रुपये


चिकन वडापावमाहीम

अभी तक हमने आपको वेड वड़ापाव के बारे में बताया , लेकिन अब हम आपको नॉन वेज वड़ापाव के बारे में बताने जा रहे है। माहिम के  मिडलैंड रेस्टोरेंट के बाजू में स्थित स्टॉल पर आप चिकन वड़ापाव खा सकते है। शामी नाम से इस वड़ापाव वाले को जाना जाता है।  उबले हुए आलू में  हर्ब्स  डाला जाता है। जिसके बाद  उबले हुए चिकन स्ट्रिप्स के साथ कवर किया गया है। जिसके बाद अंडे में डीप कर तवे पर तला जाता है। लिंबू और कांदा के साथ इसे दिया जाता है।  

कहां- माहिम दरगाह के रास्ते पर, मिडलैंड रेस्तरां के बगल में, , एल. जे. रोड, माहीम

समय: दोपहर से शाम बजे

मूल्य: 25 

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें