Advertisement
COVID-19 CASES IN MAHARASHTRA
Total:
59,97,587
Recovered:
57,53,290
Deaths:
1,19,303
LATEST COVID-19 INFORMATION  →

Active Cases
Cases in last 1 day
Mumbai
14,577
863
Maharashtra
1,21,859
10,066

मुंबई: 24 शिक्षक, 10 स्कूल के कर्मचारी पाए गए कोरोना पॉजिटिव

इनमें से 3 शिक्षक BMC के शिक्षा विभाग से हैं, जबकि बाकी मुंबई के पश्चिम, उत्तर और दक्षिण विभाग से हैं।

मुंबई:  24 शिक्षक, 10 स्कूल के कर्मचारी पाए गए कोरोना पॉजिटिव
SHARES

कोरोना (Coronavirus) के कारण स्कूल और कॉलेज पिछले आठ महीने से बंद हैं। हालांकि, 9 वीं से 12 वीं कक्षा के छात्रों के लिए स्कूल 23 नवंबर से शुरू किए जाने की घोषणा हुई। शिक्षा विभाग को स्कूल शुरू करने के लिए शिक्षकों के RTPCR टेस्ट आयोजित करने का निर्देश दिया गया है। तदनुसार, शिक्षको के कोरोना का परीक्षण किया जा रहा है। इस टेस्ट के तहत मुंबई में कोरोना (Covid in mumbai) के कुल 24 शिक्षक और 10 गैर-शिक्षण कर्मचारियों का रिजल्ट पॉजिटिव आया। इनमें से 3 शिक्षक BMC के शिक्षा विभाग से हैं, जबकि बाकी मुंबई के पश्चिम, उत्तर और दक्षिण विभाग से हैं।

मुंबई नगर निगम क्षेत्र के स्कूल 31 दिसंबर तक बंद रहेंगे।  मुंबई के उप निदेशक कार्यालय के अधिकार क्षेत्र में 9 वीं से 12 वीं कक्षा तक कुल 1802 स्कूल हैं, जिसमें 7 लाख 51 हजार 242 छात्र पढ़ते हैं।  9 वीं से 12 वीं कक्षा में पढ़ाने वाले शिक्षकों की संख्या 19 हजार 442 है और गैर-शिक्षण कर्मचारियों की संख्या 6 हजार 9 है। इसमें पश्चिमी डिवीजन के 4072 शिक्षकों, उत्तरी डिवीजन के 2122 शिक्षकों और दक्षिणी डिवीजन के 1521 शिक्षकों का कोरोना परीक्षण किया गया।

इन 7715 शिक्षकों में से 21 शिक्षकों की कोरोना टेस्ट पॉजिटिव आई है। साथ ही 2329 गैर-शिक्षण कर्मचारियों में से 10 की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है। नगरपालिका शिक्षा विभाग में 9 वीं से 12 वीं कक्षा के लिए 1161 शिक्षक पढ़ाते हैं जिसमें से 713 शिक्षकों का कोरोना टेस्ट (corona test) किया गया। इनमें से 3 शिक्षको की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।

दिसंबर तक मुंबई नगर निगम क्षेत्र में स्कूलों को बंद करने के फैसले के बाद टेस्ट स्थगित कर दिया गया था। हालांकि कार्य के दौरान जिन शिक्षकों का कोरोना टेस्ट किया गया था, उनका टेस्ट नेगिटिव आया, बावजूद स्कूल खोलने की आशंका को लेकर उनमें डर का माहौल है। अब जबकि 31 दिसंबर तक सभी स्कूलों को बंद रखने और ऑनलाइन शिक्षा जारी रखने का निर्णय लिया गया तो उनकी जान में जान आई। शिक्षकों की 50% उपस्थिति के निर्णय को वापस लेने की शिक्षकों से मांग है।

Read this story in English or मराठी
संबंधित विषय
Advertisement
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें