Advertisement

वर्ली में बच्चों के लिए 500 बेड का बनेगा जंबो कोरोना सेंटर

विशेषज्ञों का यह भी कहना कहना है कि, तीसरी लहर में, बच्चों को कोरोना से पीड़ित होने की सबसे अधिक संभावना है। इसे लेकर, बीएमसी (bmc) सबसे अधिक सतर्क है।

वर्ली में बच्चों के लिए 500 बेड का बनेगा जंबो कोरोना सेंटर
SHARES

पिछले कुछ दिनों से मुंबई (Mumbai) में कोरोना (Coronavirus) के मामले घट रहे हैं। हालांकि, खतरा अभी टला नहीं है। कोरोना की तीसरी लहर आने की उम्मीद जताई जा रही है।

साथ ही विशेषज्ञों का यह भी कहना कहना है  कि, तीसरी लहर में, बच्चों को कोरोना से पीड़ित होने की सबसे अधिक संभावना है। इसे लेकर, बीएमसी (bmc) सबसे अधिक सतर्क है।

BMC ने बच्चों के लिए एक स्वतंत्र जंबो कोरोना सेंटर (jumbo corona center) शुरू करने का फैसला किया है। नगर पालिका की तरफ से वर्ली में बच्चों के लिए 500 बेड का जंबो कोरोना सेंटर शुरू करने का निर्णय लिया गया है। इसमें 70 फीसदी ऑक्सीजन और 200 आईसीयू बेड होंगे। वर्ली में स्थापित किया जाने वाला कोरोना सेंटर 1 से 18 वर्ष के बच्चों के लिए होगा। इस जंबो सेंटर को क्यूबिक स्टाइल में बनाया जाएगा, जिसमें छोटे बच्चों के साथ मां भी रह सकेगी। नगरपालिका इस नए केंद्र को 31 मई से पहले पूरा करने का लक्ष्य रखा है। इस सेंटर के लिए BMC को सीआरएस फंड से 50 करोड़ रुपये मिले हैं।

इसके अलावा मुंबई के तीन भागों में 2,000 बेड वाले जंबो कोरोना सेंटर स्थापित किए जाएंगे। नए जंबो अस्पताल की स्थापना कांजुरमार्ग, मलाड और सायन में की जाएगी। इसके अलावा, मौजूदा जंबो कोरोना सेंटर में 6,000 और बेड उपलब्ध कराए जाएंगे। अगली अवधि में, कुल 11 जंबो कोरोना केंद्र होंगे जहां से 20,000 बिस्तर उपलब्ध होंगे।

Read this story in English or मराठी
संबंधित विषय
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें