Advertisement

मुंबई में गैस्ट्रो रोगियों की संख्या बढ़ी!

स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के अनुसार, मुंबई में वर्तमान में 16 डेंगू के मरीज है जिनमे लेप्टो भी शामिल है, 49 हेपेटाइटिस रोगी और दो कोलेरा के रोगी है

मुंबई में गैस्ट्रो रोगियों की संख्या बढ़ी!
SHARES

मानसून के दौरान,विभिन्न क्षेत्रों में स्थिर पानी आमतौर पर पाया जाता है जो विभिन्न बीमारियों का कारण बनता है। बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) की रिपोर्ट के अनुसार, शहर में गैस्ट्रो रोगियों की संख्या में वृद्धि हुई है। रिपोर्ट के अनुसार, 1010 लोगों को गैस्ट्रो का इलाज किया गया है। हालांकि, 752 लोगों में से जिन्हे मलेरियां का इलाज दिया जा रहा है , उनमें से दो ने अपना जीवन खो दिया है।

यह भी पढ़े- रिक्शा पर निकली अंतिम यात्रा!

1 जनवरी, 2018 से 15 जुलाई, 2018 तक इस वर्ष के आंकड़ों के अनुसार, 519 लोगों को गैस्ट्रो का इलाज दिया गया है। इसी तरह 192 लोगों को मलेरिया का इलाज दिया गया है।

यह भी पढ़े- तानसा तलाब भी भरा ,मुंबई को पानी पहुंचानेवाले चार तलाब भरे।

इस बीच, बीएमसी के स्वास्थ्य विभाग ने कहा कि लेप्टोस्पायरोसिस के कारण अब तक चार लोगों ने अपनी जान गंवा दी है। बीमारियों को फैलने से रोकने के लिए, बीएमसी के अधिकारियों ने 17,106 निवासियों को 37543 डॉक्सीसाइक्लिन कैप्सूल दिए है।

Read this story in मराठी or English
संबंधित विषय
Advertisement