मुंबई के 235 सार्वजनिक शौचालयों में लगाई जाएंगी सैनिटरी नैपकिन वेंडिंग मशीनें

स्कूलों, कॉलेजों, जेल, पुलिस स्टेशनों, अस्पतालों सहित अन्य स्थानों पर सैनिटरी नैपकिन वेंडिंग मशीन और इनसिनरेटर मशीनें लगाई गयी हैं। इन मशीनों को लगाने से आसानी से सैनिटरी नैपकिन उपलब्ध हो जाती है।

मुंबई के 235 सार्वजनिक शौचालयों में लगाई जाएंगी सैनिटरी नैपकिन वेंडिंग मशीनें
SHARES

झुग्गी झोपड़ों में रहने वाली महिलाओं के स्वास्थ्य को देखते हुए बीएमसी ने एक महत्वपूर्ण निर्णय लिया है। इसके अनुसार झोपड़पट्टी इलाकों के 235 सार्वजनिक शौचालयों में सैनिटरी नैपकिन वेंडिंग मशीन लगाई जाएंगी। इस संबंध में जल्द ही बीएमसी की बैठक में प्रस्ताव लाया जाएगा। इस योजना के लिए 1.72 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है।  

स्कूलों, कॉलेजों, जेल, पुलिस स्टेशनों, अस्पतालों सहित अन्य स्थानों पर सैनिटरी नैपकिन वेंडिंग मशीन और इनसिनरेटर मशीनें लगाई गयी हैं। इन मशीनों को लगाने से आसानी से सैनिटरी नैपकिन उपलब्ध हो जाती है।

जबकि स्लम इलाको में रहने वाली महिलाओं के खिलाफ आसानी से सैनिटरी नैपकिन उपलब्ध नहीं हो पाती। यही नहीं नैपकिन की जगह महिलाओं द्वारा गंदे कपड़े यूज किये जाते हैं और उन्हें शौचालयों में फेक दिया जाता है जिससे शौचालय में गंदगी फैलती है और इन गंदगी से बीमारियों के फैलने का डर बना रहता है।

इन सभी बातों को ध्यान में रखते बीएमसी ने भी अब निर्णय लिया है कि अब स्लम इलाकों में भी सैनिटरी नैपकिन उपलब्ध कराये जाएंगे, हालांकि एक आंकडें के मुताबिक मुंबई में 652 सार्वजनिक शौचालय है लेकिन अभी 235 शौचालयों में अभी सैनिटरी नैपकिन वेंडिंग मशीन लगाये जाएंगे।

संबंधित विषय