मुंबई में कोरोना के खतरे को देखते हुए तैयार किए जाएंगे 2 हजार आईसोलेशन बेड

राज्य में कुल 159 मरीजों में से 58 मुंबई के हैं और इनमें से याब तक 3 लोगों की मौत हो चुकी है। जबकि राज्य में कोरोना के कारण अब तक 5 लोगों की मौत हो चुकी है। और मुंबई में इस समय 347 व्यक्ति होम क्वारंटाइन हैं।

मुंबई में कोरोना के खतरे को देखते हुए तैयार किए जाएंगे 2 हजार आईसोलेशन बेड
SHARES

मुंबई में कोरोनो वायरस रोगियों की बढ़ती संख्या के कारण प्रशासन चिंतित है। इसे देखते हुए प्रशासन ने सभी  सरकारी और निजी अस्पतालों में 2 हजार आईसोलेशन बेड बनाये हैं। आने वाले दिनों में, यदि कोरोना रोगियों की संख्या बढ़ जाती है, तो उनका इलाज इन जगहोंपर किया जाएगा।

महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने शनिवार को जानकारी दी कि महाराष्ट्र में कोरोना वायरस (Covid -19) रोगियों की संख्या 159 तक पहुंच गई है।  मुंबई में शुक्रवार को 5 और नागपुर 1 यानी कुल 6 कोरोना के मरीज सामने आए हैं।  स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा कि अब तक कुल 28मरीज अस्पताल से डिस्चार्ज किये जा चुके हैं।

राज्य में कुल 159 मरीजों में से 58 मुंबई के हैं और इनमें से याब तक 3 लोगों की मौत हो चुकी है।  जबकि राज्य में कोरोना के कारण अब तक 5 लोगों की मौत हो चुकी है। और मुंबई में इस समय 347 व्यक्ति होम क्वारंटाइन हैं।

इस बारे में दक्षिण मुंबई के पालक मंत्री असलम शेख ने कहा, आने वाले दिनों में यदि कोरोना प्रभावित रोगियों की संख्या में वृद्धि होती है तो बृहन्मुंबई महानगरपालिका अस्पतालों में 908 बेड, निजी अस्पतालों में 399 बेड और शासकीय अस्पतालों में 685 बेडो की व्यवस्था की गई है। 

वर्तमान में, अधिकांश रोगियों को कस्तूरबा अस्पताल में भर्ती किया जा रहा है।  उसके बाद, रोगियों को केईएम और जोगेश्वरी के हिंदू हृदय सम्राट बालासाहेब ठाकरे ट्रामा केयर अस्पताल में भर्ती कराया गया।  इसके अलावा, बोरीवली के भगवती, कांदिवली के डॉ.  बाबासाहेब अंबेडकर अस्पताल, बांद्रा के भाभा अस्पताल, फोर्ट के ईएनटी अस्पताल और वडाला के कुष्ठ रोग अस्पताल, जेजे अस्पताल और सेंट जॉर्ज अस्पताल के अलग-अलग कमरों में क्रमशः 250, 50 और 200 बेड प्रस्तावित हैं।

इसके अलावा नवी मुंबई के माहुल में हजारों बेड वाले क्वारेंटाइन के लिए बनाए जाने का निर्णय किया गया है। 

असलम शेख ने आगे बताया कि, क्वारंटाइन सुविधा से युक्त उच्च शिक्षण मुंबई विभाग के शासकीय छात्रावास में 700 बेड, वर्ली के विसावा विश्रामगृह में 20 बेड, अंधेरी के कार्यकारी अभियंता उत्तर मुंबई में 414 बेड, पश्चिम रेलवे 95 बेड, मध्य रेलवे 180 बेड के साथ-साथ होटलों में 367 रुम का नियोजित किये गए हैं।

संबंधित विषय