नॉन फार्मासिस्टों को काउंसिल का झटका

 Pali Hill
नॉन फार्मासिस्टों को काउंसिल का झटका

मुंबई - उत्तर भारत में फार्मासिस्टों की कमी के चलते दवा विक्रेताओं को होने वाली परेशानी को देखते हुए नॉन फार्मासिस्टों को फार्मासिस्ट की मान्यता देने का प्रस्ताव फार्मेसी काउंसिल ऑफ इंडिया के सामने रखा गया था। जिसे फार्मेसी काउंसिल ऑफ इंडिया ने अस्वीकार कर दिया है। काउंसिल के इस निर्णय का देशभर के फार्मासिस्ट संगठन स्वागत कर रहे हैं। बता दें कि ऑल इंडिया ऑर्गनाइजेशन ऑफ केमिस्ट एंड ड्रगिस्ट ने यह प्रस्ताव केंद्रीय स्वास्थ्य विभाग के पास भेजा था। जिसे स्वास्थ्य विभाग ने काउंसिल के पास भेज दिया। महाराष्ट्र रजिस्टर्ड फार्मासिस्ट एसोसिएशन के मुताबिक काउंसिल ने यह निर्णय भविष्य में इसके दुष्परिणाम और नियम-कानून की बंदिशों के चलते लिया है।

Loading Comments