Advertisement

मुंबई में कोरोना का डबलिंग रेट 89 दिन हुआ

वर्तमान में मुंबई में कुल रोगियों की कुल संख्या 1 लाख 22 हजार 331 तक हो गई है। इनमें से 95,354 मरीज ठीक हुए हैं। दूसरे शब्दों में, मुंबई में 77% रोगी कोरोना मुक्त हो गए हैं।

मुंबई में कोरोना का डबलिंग रेट 89 दिन हुआ
SHARES


मुंबई में कोरोना अब नियंत्रण में है, हालांकि कोरोना के नए मरीज अभी भी सामने आ रहे हैं। मुंबई में मरीजों के दोगुना होने की अवधि यानी डबलिंग रेट 89 दिनों तक पहुंच गई है।

शनिवार को मुंबई में 1304 नए कोरोना मरीज दर्ज किए गए। वर्तमान में मुंबई में कुल रोगियों की कुल संख्या 1 लाख 22 हजार 331 तक हो गई है। इनमें से 95,354 मरीज ठीक हुए हैं। दूसरे शब्दों में, मुंबई में 77% रोगी कोरोना मुक्त हो गए हैं।

कोरोना ने अब तक मुंबई में 6748 रोगियों की मौत हो चुकी है। जबकि विभिन्न अस्पतालों में 19 हजार 932 मरीजों का इलाज चल रहा है। मुंबई में कोरोना वायरस मरीजों की वृद्धि दर एक प्रतिशत से लेकर 0.82 प्रतिशत तक है।

मुंबई में बोरिवली, नानाचौक-ग्रांट रोड, मस्जिद बंदर, डोंगरी में सबसे ज्यादा मरीज सामने आए हैं। इन इलाकों में मरीजों की विकास दर 1.3 प्रतिशत है।

मुंबई में सील की हुुई मारतों और प्रतिबंधित क्षेत्रों की संख्या भी धीरे-धीरे घट रही है। 1 अगस्त को नगरपालिका द्वारा जारी सूची में सील की हुई इमारतों 

की संख्या 5519 थीं और कंटेन्मेंट जोन की संख्या 617 थीं, जिसके बाद 6 अगस्त को जो नई सूची जारी हुई, उसके अनुसार सील की हुई इमारतों की संख्या घटकर 5,484 हो गईं जबकि कंटेन्मेंट जोन की संख्या भी घटकर 608 हो गयी।

इनमें से 35 इमारतों और 9 प्रतिबंधित क्षेत्रों को बाहर रखा गया है।  बोरीवली क्षेत्र में सबसे अधिक 708 इमारतों को सील किया गया है। अंधेरी ईस्ट में 493 इमारतें, कांदिवली में 431, मुलुंड में 352, दहिसर में 327, अंधेरी वेस्ट में 280 और ग्रांट रोड और आसपास के इलाकों में 260 इमारतें सील की गई हैं।।

Read this story in English or मराठी
संबंधित विषय