नए साल पर आपकी जान की सलामती के लिए FDA ने उठाया कदम, होटल वालों की बढ़ेगी परेशानी

एफडीए के अधिकारी सभी छोटे बड़े होटल, मोर्टल, रेस्टोरेंट यहां तक की सड़क फेरीवाले, खोमचों वालों सहित केक और वाईन शॉप पर भी नजर रख रही है, क्योंकि एफडीए को शक है की इन जगहों पर भीड़ का फायदा उठा कर होटल वाले मिलावटी खाद्य पदार्थ या फिर नकली शराब की बिक्री कर सकते हैं।

SHARE

नए साल का आगमन होने वाला है, नए साल का वेलकम करने के लिए लोग एंजॉय करते है। परिवार के साथ लोग घुमते हैं, खाते-पीते हैं, मौज मनाते हैं। लेकिन इस एंजॉय के रंग में भंग न पड़े इसके लिए एफडीए (फूड एंड ड्रग अथॉरिटी) काफी सजग हो गयी है। एफडीए के अधिकारी सभी छोटे बड़े होटल, मोर्टल, रेस्टोरेंट यहां तक की सड़क फेरीवाले, खोमचों वालों सहित केक और वाईन शॉप पर भी नजर रख रही है, क्योंकि एफडीए को शक है की इन जगहों पर भीड़ का फायदा उठा कर होटल वाले मिलावटी खाद्य पदार्थ या फिर नकली शराब की बिक्री कर सकते हैं।

नकली खाद्य पदर्थों की बढ़ी आवक 
आपको बता दें कि जितने भी तीज त्योंहार मनाये जाते हैं अक्सर मिलावटखोर सक्रीय हो जाते हैं। साथ ही नकली शराब से लेकर नकली खाद्य पदार्थों तक की आवक बाजारों में बढ़ जाती है। बताया जाता है कि इन नकली शराबों और खाद्य पदार्थों की आवक गोवा, गुजरात और राजस्थान से अधिक होती है। ये खाद्य पदार्थ खाना-पीना मतलब बीमारी को दावत देना है। कभी-कभी तो बात जान पर भी बन आती है, जैसा अकसर हम नकली शराब पीने के मामले में सुनते आये हैं। 

खाद्य पदार्थ बेचने वालों पर नजर 
एफडीए ने बताया कि अब तक 50 से अधिक होटलों और रेस्टोरेंट की जांच की जा चुकी है। साथ ही 26 से अधिक होटलों और रेस्टोरेंट पर नजर रखी जा रही है, जिनमें वाइन्स शॉप भी शामिल हैं। यही नहीं 22 केक शॉप की भी जांच करने की बात एफडीए ने की। इसके अलावा एफडीए ने यह भी कहा है कि 30-31 दिसंबर तक और भी खाद्य पदार्थों बेचे और बनाये जाने वाले जगहों की जांच की जाएगी।

शराब की होगी जांच 
शराब की जांच के लिए सभी अधिकारी और मशीनरी राज्य उत्पादन शुल्क विभाग के पास है, इसीलिए एफडीए के अधिकारी शराब के नमूने लेकर उसे अभी जमा कर रहे हैं जिसे बाद में जांच के लिए भेजा जाएगा।

 एफडीए के अधिकारियों का कहना है कि नया साला एंजॉय कीजिये लेकिन इसके साथ अपनी आंख और कान भी खुले रखिए। खाने-पीने के नाम पर कुछ भी मत खाइए साथ ही शराब से दूर ही रहे तो ही अच्छा।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें