Advertisement

मुंबई: कांदिवली का शताब्दी अस्पताल बनेगा सुपर स्पेशलिटी

बताया जाता है कि, इस अस्पताल को सुपरस्पेशलिटी बनाने की राह में सबसे बड़ा रोड़ा पर्यावरण विभाग द्वारा मंजूरी नहीं मिलना था।

मुंबई: कांदिवली का शताब्दी अस्पताल बनेगा सुपर स्पेशलिटी
SHARES

मुंबई उपनगर में बने कांदिवली के शताब्दी अस्पताल (shatabdi hospital) यानी बाबासाहेब आंबेडकर अस्पताल (babasaheb ambedakar hospital) को BMC की तरफ से जल्द ही सभी सुख सुविधाओं से युक्त किया जाएगा, मतलब शताब्दी अस्पताल को सुपर स्पेशलिटी बनाया जाएगा।

इस अस्पताल में रोगियों के लिए विभिन्न सुविधाएं जैसे कार्डियोलॉजी, न्यूरोसर्जरी, सीटी स्कैन आदि की सुविधा उपलब्ध कराई जाएंगी। इससे कांदिवली क्षेत्र के नागरिकों को स्वास्थ्य सुविधाओं के संबंध में बड़ी राहत मिलेगी।

शताब्दी अस्पताल में मुंबई उपनगर के असंख्य मरीज अपना इलाज कराने के लिए आते हैं। इसलिए, इसका बड़ा फायदा उपनगरों के रहने वाले लोगों को मिलेगा। यही नहीं, इस अस्पताल के काम को राज्य सरकार के पर्यावरण विभाग द्वारा मंजूरी मिल गई है, इससे अब अस्पताल को 10 मंजिला बनाया जाएगा। प्रशासनिक अधिकारियों के अनुसार, इसमें कम से कम 325 बेड होंगे।  

यहां के जनप्रतिनिधियों द्वारा नगरपालिका प्रशासन से पिछ्ले कई सालों से इस अस्पताल को अपग्रेड करने और इसे सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल बनाने की मांग कर रहे हैं।

बताया जाता है कि, इस अस्पताल को सुपरस्पेशलिटी बनाने की राह में सबसे बड़ा रोड़ा पर्यावरण विभाग (environment ministry) द्वारा मंजूरी नहीं मिलना था।

लेकिन अब जबकि इसे मंजूरी दे दी गई है, तो अस्पताल के काम में एक बड़ी बाधा हट गई है।  इमारत के निर्माण में 842 प्रकार के विभिन्न प्रकार पेड़ आड़े आ रहे थे।, जिन्हें काटा जाना आवश्यक था, लेकिन इसकी मंजूरी पर्यावरण विभाग नहीं दे रहा था।

अब इसमें से केवल 149 पेड़ों को ही काटा जाएगा और शेष पेड़ों को इस अस्पताल के परिसर में फिर से रोपड़ किया जाएगा। इसके लिए निविदा प्रक्रिया जल्द ही शुरू की जाएगी और BMC के ठेकेदार को काम पर रखकर अस्पताल के काम को पूरा कराया जाएगा।

Read this story in English or मराठी
संबंधित विषय
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें